कर्नाटक निकाय चुनाव में कांग्रेस की बल्ले-बल्ले, भाजपा की हार पर येदियुरप्पा ने कहा- 2019 में अलग होंगे परिणाम

कर्नाटक निकाय चुनाव में कांग्रेस की बल्ले-बल्ले, भाजपा की हार पर येदियुरप्पा ने कहा- 2019 में अलग होंगे परिणाम

Kaushlendra Pathak | Publish: Sep, 03 2018 02:33:09 PM (IST) | Updated: Sep, 03 2018 02:33:10 PM (IST) राजनीति

कर्नाटक निकाय चुनाव हार पर येदियुरप्पा ने दिया बड़ा बयान।

नई दिल्ली। कर्नाटक स्‍थानीय निकाय चुनाव के परिणाम लगभग आ चुके हैं। कांग्रेस ने इस चुनाव में एक बार फिर बाजी मारी है। राज्य की 105 निकाय सीटों के 2709 वार्डों पर मतगणना जारी है। इनमें से कुल 2338 वार्ड के नतीजे सामने आ चुके हैं। घोषित परिणामों में से कांग्रेस ने 870, भाजपा ने 815 और जेडीएस ने 307 सीटों पर अब तक जीत दर्ज की है। इनके अलावा 277 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने बाजी मारी है। इस जीत से कांग्रेस पार्टी के नेता और कार्यकर्ता गदगद हैं।

येदियुरप्पा ने दिया यह बयान

इधर, इस हार से भाजपा खेमे में दुखी है। कर्नाटक भापजा के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि नतीजे उनकी उम्मीद से ज्यादा खराब हैं। उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार की वजह से उनकी कैल्कुलेशन गलत साबित हुई। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव का परिणाम इससे काफी अलग होगा। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा जीत जरूर हासिल करेगी।

कांग्रेस बनी सबसे बड़ी पार्टी

कांग्रेस और जेडीएस के सत्‍ता में आने के तीन महीने बाद हुए स्‍थानीय निकाय चुनावों में कांग्रेस को फिर से अपनी स्थिति को हासिल करने में सफलता मिली है। दो तिहाई से अधिक सीटों पर चुनाव परिणाम आ गए हैं और कांग्रेस पार्टी इन परिणामों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। अभी तक के परिणामों के लिहाज से कांग्रेस ने भाजपा से 68 सीटें ज्‍यादा जीतकर अच्‍छी बढ़त बना ली है। स्‍थानीय निकाय चुनाव में भी कांग्रेस और जेडीएस एक दूसरे के खिलाफ लड़े हैं। यही वजह है कि निकाय चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे का मुकाबला है। कर्नाटक में स्‍थानीय निकाय चुनावों के लिए 31 अगस्त को वोट डाले गए थे। इस जीत से एक बार फिर कांग्रेस के हौसले बुलंद हो गए हैं। बहरहाल, अब सबकी नजर आने वाले कुछ सीटों के परिणाम पर टिके हैं।

Ad Block is Banned