अमरिंदर सिंह के इस्तीफे पर बोले अनिल विज- पंजाब कांग्रेस के हालात डूबते जहाज जैसे

कैप्टन अमरिंदर सिंह के पंजाब के मुख्यमंत्री के रूप में इस्तीफा सौंपने के बाद हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने इन हालात पर चुटकी लेते हुए पंजाब कांग्रेस की तुलना डूबते जहाज से की।

अंबाला। पंजाब के मुख्यमंत्री पद से कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफा देने के तुरंत बाद हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने इस पर निशाना साधा। उन्होंने शनिवार को पंजाब कांग्रेस और एक डूबते जहाज के बीच समानताएं दिखाते हुए इसे 'अस्थिर' करार दिया। उन्होंने इशारों में बताया कि इस राजनीतिक घटनाक्रम के पीछे का कारण पार्टी के भीतर 'आंतरिक संघर्ष' है।

मीडिया से बातचीत में विज ने कहा, "जब कोई जहाज डूबने वाला होता है, तो उसकी गति अस्थिर हो जाती है। इसी तरह, पंजाब कांग्रेस भी अस्थिर हो गई है। उनके आंतरिक संघर्ष हैं।" इसके बाद विज ने पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को कैप्टन के इस कदम के लिएलिए जिम्मेदार ठहराया।

कैप्टन के इस्तीफे पर ट्वीट करते हुए विज ने कहा, "कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। इसकी स्क्रिप्ट उसी दिन लिखी गई थी, जिस दिन नवजोत सिंह सिद्धू कांग्रेस में आए थे, क्योंकि जहां भी 'संत' गए, वहां विनाश हुआ।'

अनिल विज की यह टिप्पणी तब आई जब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) द्वारा शाम 5 बजे बुलाई गई एक आपातकालीन कांग्रेस विधायक दल (CLP) की बैठक से पहले पंजाब राजभवन में शाम साढ़े चार बजे के बाद राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को अपना और मंत्रिपरिषद का इस्तीफा सौंप दिया।

केवल एक लाइन के इस्तीफे में अमरिंदर सिंह ने लिखा, "मैं एतद् द्वारा मेरा इस्तीफा मुख्यमंत्री के रूप में और मंत्रियों की मेरी परिषद के रूप में देता हूं।" इस संबंध में जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस दौरान कैप्टन की पत्नी और सांसद प्रेणीत कौर उनके साथ गवर्नर हाउस गईं। इसके अलावा सांसद गुरजीत सिंह औजला और रवनीत सिंह बिट्टू, एजी अतुल नंदा और सीएम के मुख्य प्रधान सचिव सुरेश कुमार के साथ उनके बेटे रणिंदर सिंह भी मौजूद थे।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पिछले दो महीनों में कांग्रेस नेतृत्व द्वारा लगातार अपमान का हवाला देते हुए शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि समय आने पर वह अपने भविष्य के विकल्पों का पता लगाएंगे और प्रयोग करेंगे। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह पांच दशकों से अधिक समय से उनके साथ खड़े अपने समर्थकों के परामर्श से अपने भविष्य की राजनीतिक कार्रवाई का फैसला करेंगे।

अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned