कांग्रेस के साथ लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ने के सवाल पर सीएम कुमारस्‍वामी ने दिया गोलमोल जवाब

कांग्रेस के रुख से तय होगा लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ेंगे या अलग-अलग।

By: Dhirendra

Published: 24 Jul 2018, 03:00 PM IST

नई दिल्‍ली। कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्‍वामी ने एक नया बयान देकर कांग्रेस-जेडीएस के बीच जारी तकरार को लेकर सस्‍पेंस को फिर से जिंदा कर दिया है। उन्‍होंने मीडिया की तरफ से चुनाव को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि आगे क्‍या होगा इसको लेकर अभी आपको थोड़ा इंतजार करना होगा। उन्‍होंने कहा कि इस बात को लेकर गेंद कांग्रेस के पाले में है। इस बारे में आगे की बातचीत के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

कांग्रेस के पास एजेंडा है
पत्रकारों की ओर से यह सवाल पूछे जाने पर कि क्‍या 2019 में लोकसभा चुनाव कांग्रेस और जेडीएस मिलकर लड़ेगी? इसके जवाब में सीएम कुमारस्‍वामी ने कहा कि अभी इस मुद्दे पर चर्चा नहीं हुई है। आने वाले दिनों में चर्चा होगी। जहां तक एजेंडे की बात है तो वो कांग्रेस के पास है। हम इस बात पर गौर फरमाएंगे कि वो हमें कितना तवज्‍जो देते हैं। यानी लोकसभा चुनाव कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन मिलकर लड़ेगी या नहीं इस बात पर सस्‍पेसं बरकरार है।

गठबंधन की नीति से खुश नहीं है सीएम
आपको बता दें कि मई, 2018 में कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार अस्तित्‍व में आने के बाद से ही दोनों के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गया था। पहले मंत्रिमंडल में मंत्रियों की संख्‍या, उसके बाद मंत्रालय को लेकर खीचंतान जारी रही। इससे जैसे तैसे मामला आगे बढ़ा तो बजट पेश करने को लेकर भी दोनों के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गए थे। पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने तो इस मुद्दे पर सरकार गिराने तक के संकेत दिए थे। लेकिन उन्‍होंने बाद में स्‍पष्‍ट कर दिया था कि लोकसभा चुनाव तक सबकुछ सही रहेगा। उसके बाद बजट प्रस्‍ताव विधानसभा में कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के हस्‍तक्षेप के बाद पेश हुआ था। बजट में कृषि ऋण माफी को लेकर भी कांग्रेस नाराज है। और अब आज के सवालों का जवाब देने के तरीके से भी साफ है कि कुमारस्‍वामी इस गठबंधन से खुश नहीं हैं।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned