कोरोना से निपटने के लिए सामने आया केजरीवाल सरकार का 5 T प्लान, जानिए कैसे करेगा काम

  • Corona से जंग के लिए Kejriwal Govt का प्लान
  • साउथ कोरिया की तर्ज पर ज्यादा टेस्ट का लक्ष्य
  • हॉट स्पॉट इलाकों की होगी रैंडम सैंपलिंग

By: धीरज शर्मा

Updated: 07 Apr 2020, 03:08 PM IST

नई दिल्ली। कोरोनावायरस ( coronavirus in India ) लगातार अपने पैर पसार रहा है। देशभर में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 4000 के करीब पहुंच चुकी है। जबकि अब तक इस जानलेवा वायरस के चलते 114 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। यही वजह है कि केंद्र के साथ-साथ राज्य सरकारें कोरोना से निपटने के लिए खास रणनीति बना रही हैं।

इसी कड़ी में राजधानी दिल्ली ( Delhi Govt ) में भी कोरोना को हराने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( CM Arvind Kejriwal ) ने 5 T प्लान तैयार किया है। कोरोना से निपटने के लिए बनाए गए इस स्पेशल प्लान में एक लाख टेस्ट से लेकर, क्वारंटाइन सेंटर और हॉट स्पॉट जैसी बातों पर फोकस किया गया है।

तेजी से बदल रही है मौसम की चाल, कई राज्यों में बारिश कर सकती है बुरा हाल

मुख्यमंत्री केजरीवाल अन्य राज्यों की तरह कोरोना को हराने के लिए लगातार रणनीतियां बना रहे हैं। दिल्ली में अब तक कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 523 तक पहुंच गई है जबकि इस वायरस के चलते 7 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। इस बीच केजरीवाल ने इस जानलेवा वायरस से निपटने के लिए जो 5 T प्लान तैयार किया उसमें पहला T टेस्टिंग, दूसरा ट्रेसिंग, तीसरा ट्रीटमेंट, चौथा टीम वर्क और पांचवा ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग है।

1.बड़े पैमाने पर 'टेस्टिंग'

दिल्ली में अगले कुछ दिनों में एक लाख से ज्यादा टेस्ट किए जाने हैं। ताकि इस वायरस से जुड़े हर शख्स तक पहुंचकर इसे काबू किया जा सके। एक लाख लोगों के रैपिड टेस्ट के लिए किट का ऑर्डर कर दिया है। शुक्रवार से रैपिड टेस्ट किट आने लगेगा।

2.कोरोना मरीजों की ट्रेसिंग
जिन इलाकों में कोरोना के मरीज ज्यादा मिले हैं, जिन्हें हॉट स्पॉट भी कहा जा रहा है, उन इलाकों में रैंडमली लोगों के टेस्ट होंगे। पुलिस की मदद से कोरोना मरीजों की ट्रेसिंग की जाएगी। मकरज से निकले लोगों पर खास नजर होगी। पुलिस की मदद से हम ऐसे लोगों को ट्रेस करेंगे, जो होम क्वारनटीन हैं। पुलिस को हमने अब तक 27202 लोगों के फोन नंबर दिए हैं। उनका जीपीएस लोकेशन चेक किया जाता है। इसके साथ ही मरकज से निकलने वाले 2000 लोगों के फोन नंबर भी पुलिस को दिए जाएंगे। उनके लोकेशन के आधार पर इलाकों को सील किया जाएगा।

कोरोना से जंग में महिला पुलिसकर्मी ने उठाया बड़ा कदम, बोलीं- जब तक नहीं होगा कोरोना का खात्मा, तब तक नहीं करूंगी निकाह

3.संक्रमित मरीजों का ट्रीटमेंट

जो बीमार होगा उसका इलाज करना है। अब तक 525 कोरोना पॉजिटिव केस आए हैं। अब तक हमने 3 हजार बेड की क्षमता तैयार कर ली। LNJP में सिर्फ कोरोना मरीजों की इलाज। जीबी पंत में 500 बेड तैयार। राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में सिर्फ कोरोना मरीजों का इलाज। 30 हजार मरीज होने तक पूरी तैयारी कर ली है।

4. टीम वर्क, सब मिलकर कोरोना से लड़ेंगे
कोरोना से जंग के बीच केजरीवाल सरकार ने कहा कि हम लगातार कोशिश कर रहे हैं, लेकिन इसके लिए केंद्र के साथ ही अन्य राज्य सरकार को भी मिलकर काम करने की जरूरत है।कोरोना से जंग में टीम वर्क से ही हम इसे मात दे पाएंगे।

5. ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग

सीएम केजरीवाल ने कहा कि इन सब कामों का ठीक से पालन हो रहा है या नहीं इसकी लगातार ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग की जाएगी। ताकि किसी भी काम में कोई परेशानी ना आए।

500-1000 टेस्ट रोजाना
आपको बता दें कि सीएम केजरीवाल पहले भी कह चुके हैं कि वे साउथ कोरिया की तरह ही ज्यादा से ज्यादा टेस्ट करेंगे। ताकि कोरोना वायरस का नामो निशान प्रदेश से मिटाया जा सके। सीएम केजरीवाल के मुताबिक मार्च रोजाना 100 से 125 टेस्ट होते थे जबकि अप्रैल में ये आंकड़ा बढ़ कर 500 से 1000 तक पहुंच गया है।

7 अप्रैल से 421 स्कूलों में मिलेगा राशन
केजरीवाल सरकार पहले ही ऐलान कर चुकी है कि जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है उन्हें 7 अप्रैल से राजधानी के 421 स्कूलों से राशन मिलना शुरू हो जाएगा। बस इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना होगा।

coronavirus COVID-19 कोरोना वायरस
Show More
धीरज शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned