दुष्यंत चौटाला का बड़ा बयान, कहा- कुछ जयचंद पार्टी से बाहर करना चाहते हैं

दुष्यंत चौटाला का बड़ा बयान, कहा- कुछ जयचंद पार्टी से बाहर करना चाहते हैं

Shiwani Singh | Publish: Nov, 10 2018 05:04:20 PM (IST) राजनीति

बाद हिसार से सांसद दुष्‍यंत चौटाला ने अपने चाचा और हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला का नाम लिए बिना जमकर हमला बोला।

नई दिल्ली। इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) में आपीसी मतभेद गहराता जा रहा है। पार्टी अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला ने अपने दो पोतों को ‘अनुशासनहीनता’ का दोषी पाते हुए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। निष्कासन की खबर के बाद हिसार से सांसद दुष्‍यंत चौटाला ने अपने चाचा और हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला का नाम लिए बिना जमकर हमला बोला।

यह भी पढ़ें-कर्नाटक के मंत्री बोले- हर मुसलमान चाहता है अयोध्या में राम मंदिर बने लेकिन मस्जिद भी हो साथ

कुछ जयचंद हमे पार्टी से निकालना चाहते हैं

शनिवार को चंडीगढ़ में प्रेसवार्ता के दौरान दुष्‍यंत चौटाला ने कहा कि जब तक राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष का साइन किया हुआ पत्र मुझे नहीं मिलता, तब तक मैं नहीं मानूंगा की मुझे और दिग्विजय को पार्टी से निकाल दिया गया है। पार्टी से निकाला गया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने कहा कि कुछ जयचंद ऐसे हैं जो चाहते है कि हमारे संघर्ष को तोड़ा जाए और पार्टी से निकाला जाए।

मैं भी उन्हीं चौटाला का खून हूं

मीडिया से मुखातिब होते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा, ऐसे निष्कासन तो मेरे परिवार ने कई झेले हैं। मंच पर जब चौधरी चरण सिंह ने चौधरी देवीलाल को निष्कासित कर दिया था तो चौधरी देवीलाल रुके नहीं थे। वहीं, जब चौधरी देवीलाल ने ओमप्रकाश चौटाला को निष्कासित कर दिया था तब भी वे रुके नहीं थे। मैं भी उन्हीं चौटाला का खून हूं, निष्कासित होने से रुकने वाला नहीं हूं।' वहीं, अपने निष्कासन पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि जब मुझे नोटिस दिया गया तो मैंने कहा था कि मेरे खिलाफ कोई सुबूत हो तो दिया जाए, लेकिन, मुझे कोई सुबूत उपलब्ध नहीं कराया गया। उन्होंने कहा कि मुझे अभी तक चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के हस्ताक्षर किया हुआ पत्र नहीं मिला है, जिसमें लिखा हो कि मुझे पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें-शहरों के तो बदल दिए, क्या समोसा-जलेबी, दाल चावल-राजमा, बिरयानी, मोमोज का भी नाम बदलेगा

अजय चौटाला ने क्या कहा

वहीं, इससे पहले अजय चौटाला ने भी अपने छोटे भाई अभय चौटाला का नाम लिए बगैर ही हमला बोला था। उन्होंने कहा कि हमें अपनी ही पार्टी के हक के लिए दावा करने की जरूरत नहीं है। दावा तो वो लोग करते है जिन्हे कुछ छिनता दिखता हो, पहले से ही सबकुछ हमारा है। उन्होंने कहा कि इनेलो पार्टी किसी एक व्यक्ति की नहीं बल्कि कार्यकर्ताओं की पार्टी है।

Ad Block is Banned