पांच बार मेघालय के मुख्यमंत्री रहे लपांग ने कांग्रेस छोड़ी, बोले- बुजुर्गों की हो रही अनदेखी

पांच बार मेघालय के मुख्यमंत्री रहे लपांग ने कांग्रेस छोड़ी, बोले- बुजुर्गों की हो रही अनदेखी

pritesh gupta | Publish: Sep, 14 2018 05:31:13 PM (IST) राजनीति

पांच बार मुख्यमंत्री रहे वरिष्ठ नेता के इस्तीफे को कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

शिलॉन्ग। मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री और दिग्गज राजनेता डीडी लपांग ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा, 'अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी वरिष्ठ और बुजुर्ग लोगों को धीरे-धीरे दरकिनार कर रही है। मुझे लगता है कि इसका तात्पर्य यह है कि मेरी सेवाएं और योगदान अब पार्टी के लिए ज्यादा जरूरी नहीं है।' 2019 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पूर्वोत्तर में इसे कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को इस्तीफा सौंपा है।

मालदीव: आम चुनाव से पहले सरकार ने मीडिया पर बनाया दबाव, निजी न्यूज चैनल पर लगाया जुर्माना

कौन हैं लपांग?

करीब 40 वर्षों तक कांग्रेस से जुड़े रहे 84 वर्षीय लपांग का पूरा नाम डोनवा डेथवेल्सन लपांग है। वे पांच बार मेघालय के मुख्यमंत्री रहे हैं। इसके अलावा वे मेघालय कांग्रेस के अध्यक्ष भी रहे हैं। वे 1992 में पहली बार मेघालय के मुख्यमंत्री बने थे। इसके बाद 2003, 2007, 2008 और 2009 में मेघालय के मुख्यमंत्री बने।

यह भी पढ़ेंः दिल्ली में महात्मा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन का होगा आयोजन, 50 से अधिक देश लेंगे हिस्सा

तीन साल से नहीं मिले पूर्व मुख्यमंत्री और महासचिव

मेघालय से कांग्रेस के महासचिव और मेघालय के इंचार्ज लूजिंहो फेलरियो ने लपांग के पार्टी छोड़ने पर कहा कि उनकी पिछले तीन सालों से उनकी मुलाकात नहीं हुई है। फेलरियो के मुताबिक लपांग पिछले दिनों राज्य में पार्टी को मजबूत करने के लिए बुलाई गई बैठक में भी शामिल नहीं हुए थे। वहीं मेघालय कांग्रेस के अध्यक्ष सेलेस्टीन लिंगदोह ने इस्तीफे पर आश्चर्य जाहिर करते हुए कहा की इस मामले पर जल्दी सुलझाने के लिए हर कोशिश की जाएगी। लपांग के इस्तीफे ने राहुल गांधी की नीतियों पर भी सवाल खड़े किए हैं, क्योंकि कांग्रेस अक्सर आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जैसे वरिष्ठ नेताओं को लेकर भाजपा पर निशाना साधती है।

यह भी पढ़ेंः डिग्री पर उठे सवाल तो स्पेन की स्वास्थ्य मंत्री ने दे दिया इस्तीफा, तीन महीने पहले ही संभाला था पद

Ad Block is Banned