विदेश राज्‍य मंत्री वीके सिंह ने मॉब लिंचिंग को बताया पूरे देश की समस्‍या

विदेश राज्‍य मंत्री वीके सिंह ने मॉब लिंचिंग को बताया पूरे देश की समस्‍या

Dhirendra Mishra | Publish: Aug, 12 2018 01:06:35 PM (IST) राजनीति

केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने मॉब लिंचिंग को बताया पूरे देश की समस्‍या, इस बात पर यूपी वाले हो गए...
केंद्र सरकार मॉब लिंचिंग को लेकर सख्‍त कानून बनाने की तैयारी मे जुटी है।

नई दिल्‍ली। विदेश राज्‍य मंत्री वीके सिंह ने मॉब लिंचिंग पर एक बड़ा बयान दिया है। उन्‍होंने कहा कि यह समस्‍या पूरे भारत में है। इसके लिए केवल वेस्‍ट यूपी को कोसना किसी भी लिहाज से उचित नहीं है। ऐसा करना पश्चिमी यूपी के साथ अन्‍याय है। जहां तक इन घटनाओं को नियंत्रित करने की समस्‍या है तो केंद्र सरकार हर स्‍तर पर इसके लिए प्रयासरत है। इस विषय पर सख्‍त कानून बनाने के लिए सरकार ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्‍यक्षता में ग्रुप ऑफ मिनिस्‍टर्स (जीओएम) और वरिष्‍ठ नौकरशाहों की दो समिति भी गठित की है। दोनों समिति इस मुद्दे पर तेजी से काम कर रही है और बहुत जल्‍द मॉब लिंचिंग पर सख्‍त कानून अस्तित्‍व में आ जाएगा।

राजनीति से ऊपर उठकर सोचने की जरूरत
शनिवार को पीएम मोदी ने भी मॉब लिंचिंग की घटनाओं को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। उन्होंने कहा कि ऐसी कोई भी घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। पीएम मोदी ने कहा कि हमने कई बार सभी से इस मामले में सहयोग की अपील की है। इस मामले में सरकार तेजी से विशेष कानून बनाने को भी तैया है। उन्‍होंने कहा कि इस तरह काअपराध चिंताजनक है। समाज में शांति और एकता सुनिश्चित करने के लिए हर किसी को राजनीति से ऊपर उठकर सोचने की जरूरत है। सभी को ऐसी घटनाओं का कड़ा विरोध करना चाहिए। आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और अन्य विपक्षी दलों के नेता अक्सर आरोप लगाते रहते हैं कि पीएम मोदी महिलाओं, दलितों, अल्पसंख्यकों और लिंचिंग की घटनाओं पर चुप्पी साधे रहते हैं।

सोशल मीडिया जिम्‍मेदार
वर्तमान में सरकार सोशल मीडिया कंपनियों जैसे व्हाट्सप्प, फेसबुक, ट्वीटर, इंस्‍टाग्राम आदि को रोकने के लिए निर्देशित भी करती रहती हैं। सरकार की माने तो सबसे ज्यादा मॉब लींचिंग की वारदात व्हाट्सप्प पर फैले झूठे मैसेजेज के कारण होता है। सरकार का कहना है की अगर ये झूठी खबरें सोशल मीडिया पर पोस्ट ही नहीं होंगी तो इससे मोब लीचिंग की घटनाओं में कमी आएगी। इसके अलावा व्हाट्सप्प का प्रयोग कश्मीर के पत्थरबाजों द्वारा भी किया जाता है।

क्‍या है मॉब लिंचिंग
मॉब लीचिंग भीड़ द्वारा अनियंत्रित होकर किसी वारदात या घटना को अंजाम देना है। आजकल मॉब लीचिंग की घटनाएं बहुत ज्यादा ही बढ़ गई हैं। पिछले एक से दो साल के अंदर भारत में करीब 70 घटनांए इस तरह की हो चुकी हैं। जबकि सौ से ज्‍यादा मामले मॉब लिंचिंग के दर्ज किए जा चुके हैं। इस मामले में उत्‍तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, असम, त्रिपुरा, हरियाणा में इस तरह की घटनाएं बड़े पैमाने पर हुई हैं। दरअसल मॉब लीचिंग की घटना सोशल मीडिया पर फैली झूठी और भ्रामक खबर के प्रभाव में आकर लोग किसी को भी अपराधी समझ लेते हैं और फिर उनको इतना पीटा जाता है की उनकी मौत तक हो जाती है।

Ad Block is Banned