कर्नाटक में लापता हुए कांग्रेस के 4 विधायक, पार्टी ने ढूंढ़ने के लिए लगाए हेलीकॉप्टर

कांग्रेस ने अपने विधायकों को सुरक्षित रखने के लिए इग्लटन रिसॉर्ट में कमरे बुक करवाए हैं। बताया जा रहा है कि 120 कमरे बुक कराए गए हैं।

By: Kapil Tiwari

Published: 16 May 2018, 01:58 PM IST

बेंगलुरु। कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं और सरकार बनाने की कवायद जारी है। जहां एक तरफ कांग्रेस और जेडीएस मिलकर सरकार बनाने का दावा कर रही है तो वहीं बीजेपी ने भी सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है। राज्य में जोड़-तोड़ की राजनीति अब शुरू हो गई है।

इन राज्यपालों के फैसलों से बना और बिगड़ा राज्यों में सत्ता का गणित

कांग्रेस के 4 विधायकों ने पार्टी से तोड़ा संपर्क
बुधवार को कर्नाटक में बीजेपी के सीएम कैंडिडेट बीएस येदियुरप्पा ने सरकार बनाने का दावा किया है। उन्होंने कहा है कि वो राज्यपाल से मिलकर बहुमत का आंकड़ा पेश करेंगे। इस बीच खबर है कि कर्नाटक में कांग्रेस के 4 विधायक लापता है, जिनका कोई पता नहीं है। इन विधायकों को ढूंढने के लिए कांग्रेस पार्टी ने अपनी पूरी जान लगा दी है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस पार्टी इन विधायकों को हेलिकॉप्टर से ढूंढने में लगी है। लापता हुए 4 विधायकों को बिदर और कलबुर्गी में हेलिकॉप्टर से ढूंढा जा रहा है।

कर्नाटक चुनाव: कांग्रेस विधायक एएल पाटिल का बड़ा बयान, भाजपा ने मुझे दिया मंत्री पद का ऑफर

अपने विधायकों को सुरक्षित रखने के लिए किए ये काम
बताया जा रहा है कि मंगलवार से ही कांग्रेस के ये 4 विधायक पार्टी से किसी भी तरह के संपर्क में नहीं है। अपने विधायकों को बचाने के लिए कांग्रेस पार्टी हर जतन कर रही है। कांग्रेस ने इग्लटन रिसॉर्ट में अपने विधायकों के लिए कमरे बुक करवाए हैं। बताया जा रहा है कि 120 कमरे बुक कराए गए हैं। कांग्रेस सभी विधायकों को सरकार बनने तक यहीं पर रहने को कह सकती है जिससे बीजेपी उनसे संपर्क ना कर पाए। देवानागरे नॉर्थ के विधायक शिवशंकरप्पा कांग्रेस दफ्तर छोड़कर आराम करने गए हैं, वह बाद में वापस आएंगे। वह सुबह करीब 300 किमी. कार ड्राइव कर वापस लौटे हैं।

जेडीएस नेता का बड़ा बयान, बहुमत का सम्‍मान नहीं हुआ तो होगी लोकतंत्र की हत्‍या

गुलामी नबी आजाद ने भाजपा को चेताया
आपको बता दें कि कांग्रेस अपने सभी 78 विधायकों के साथ बैठक करेगी, लेकिन अभी तक सिर्फ 66 के करीब विधायक ही बैठक में पहुंचे हैं। बेंगलुरु में मौजूद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि बीजेपी उनके विधायकों को धमका रही है। उन पर दबाव बना रही है, उसे लोकतंत्र में भरोसा नहीं है। आजाद ने कहा कि अगर राज्यपाल ने संवैधानिक मूल्यों का पालन नहीं किया और हमें सरकार बनाने के लिए निमंत्रित नहीं किया, तो यहां खूनी संघर्ष होगा।

आपको बता दें कि कर्नाटक के चुनावी नतीजों में बीजेपी को 104 सीटें हासिल हुई हैं, जबकि कांग्रेस को 78 सीटें मिली हैं। वहीं जेडीएस को 38 सीटें मिली हैं।

Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned