NDA के सहयोगी दल JDU का दावा, 25 सीटों से कम पर नहीं लड़ेंगे चुनाव

चुनाव से पहले एनडीए में सब कुछ सही नहीं चल रहा है। सीटों को लेकर सहयोगी दल आमने-सामने है।

By: Prashant Jha

Published: 07 Jun 2018, 06:34 PM IST

नई दिल्ली: आम चुनाव से पहले भाजपा के सामने एनडीए गठबंधन के सहयोगियों को साथ रखना मुश्किल होता जा रहा है। भाजपा का जनता दल यूनाइटेड के साथ भी सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। एनडीए के सहयोगी दल जदयू ने बिहार में सीट बंटवारे को लेकर अपना दावा ठोक दिया है। जदयू नेता ने बिहार में 40 लोकसभा सीटों में से 25 सीटों पर दावा किया है। साथ ही बिहार में नीतीश कुमार को गठबंधन के बड़े भाई के रूप में पेश किया है। जदयू के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक ने कहा कि हमारे नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भूमिका अहम है। हमने पिछली बार भी 25 सीटों पर चुनाव लड़ा था और 2019 में भी उतनी ही सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। इससे कम का कोई सवाल ही नहीं उठता। उन्‍होंने कहा कि अगर एनडीए नीतीश कुमार की छवि का फायदा उठाना चाहते हैं तो उसे जेडीयू के साथ न्‍याय करना होगा। बता दें कि मौजूदा हालात में बिहार में जदयू के 2 सांसद और भाजपा के 22 सांसद है।

 

लोक जन शक्ति पार्टी ने भी दावा ठोका

इधर एनडीए के घटक जनशक्ति पार्टी ने भी दावा ठोका है। लोक जनशक्ति पार्टी ने सात सीटों पर चुनाव लड़ने का दावा किया है। लोक जनशक्ति पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान ने मीडिया से बातचीत में कहा कि अगामी लोकसभा चुनाव में हमारी पार्टी बिहार में 7 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी।

एनडीए की डिनर पार्टी

उपेंद्र कुशवाह ने भाजपा के महाभोज में जाने से किया इनकार दरअसल एनडीए की आज डिनर पार्टी आयोजित है। खबर है कि भाजपा के इस आयोजन में आरएलएसपी शामिल नहीं होगी। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाह ने महाभोज से पहले ये साफ कर दिया है कि वो इस आयोजन में शामिल नहीं होंगे। ये भाजपा के लिए चिंता बढ़ाने वाली बात है, क्योंकि सिर्फ बिहार ही नहीं बल्कि पूरे देश से एनडीए के सहयोगी दल आज इस महाभोज में शामिल हो रहे हैं।

Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned