नीतीश कुमार में बताया पश्चिम बंगाल में कितनी सीटों पर लडे़गी JDU, BJP को लेकर कही बड़ी बात

  • West bengal में कम से कम 75 सीट पर चुनाल लड़ सकती है जेडीयू
  • नीतीश कुमार ने साफ किया बीजेपी के साथ गठबंधन पर रुख
  • बंगाल में पहुंचे बिहारियों पर है जेडीयू को फोकस

By: धीरज शर्मा

Published: 18 Dec 2020, 01:23 PM IST

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों में हलचल बढ़ गई है। टीएमसी, बीजेपी के साथ अन्य दल भी अपनी-अपनी जमीन मजबूत करने में जुटे हैं। इस बीच बिहार के बाद अब पश्चिम बंगाल में जेडीयू ( JDU ) के कम से कम 75 सीटों पर चुनाव लड़ने के मूड में है।

हालांकि जेडीयू चीफ नीतीश कुमार से जब पूछा गया कि बिहार में एनडीए का सहयोगी दल जदयू भी चुनाव मैदान में उतरेगा? इस पर उन्होंने कहा है कि बंगाल से हमारे साथ जुड़े बहुत से लोग आए हुए थे, मगर चुनाव के बारे में कोई बात नहीं हुई।

दिल्ली कोर्ट का बड़ा फैसला, शादी का वादा कर शारीरिक संबंध बनाना हर बार नहीं होगा रेप का मामला

वहीं इससे पहले जदयू के राष्ट्रीय महासचिव और पार्टी के पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रभारी गुलाम रसूल बलियावी ने कहा था कि पश्चिम बंगाल में पार्टी की इकाई कम से कम 75 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है और यह संख्या नेतृत्व से मंजूरी मिलने पर बढ़ सकती है।

बंगाल में जेडीयू ने चलाया अभियान
आपको बता दें कि पिछली बार भी जेडीयू ने पश्चिम बंगाल में चुनाव लड़ा था। यही वजह है कि इस बार भी पार्टी अच्छी जीत की उम्मीद लगा रही है। पार्टी ने मालदा, सिलीगुड़ी, मुर्शिदाबाद, पुरुलिया, बांकुरा और नंदीग्राम जैसे जिलों में बड़े पैमाने पर सदस्यता अभियान चलाया है।

बलियावी के मुताबिक उनकी पार्टी पहले भी पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव लड़ चुकी है। उन्होंने कहा कि हम इस बार भी ऐसा करना चाहेंगे।

बिहारी लोगों पर फोकस
जेडीयू उन जगहों पर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए कोशिश कर रही है, जहां बिहार से आए लोगों का प्रतिशत अधिक है। बलियावी ने दावा किया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बिहार के सुशासन की आस-पास के राज्यों में चर्चाएं हो रही हैं। इसका फायदा पश्चिम बंगाल के चुनाव में भी पार्टी को मिलेगा।

अमित शाह बंगाल दौरे पर एक तीर से लगाएंगे दो निशाने, जानिए कैसे ममता के गढ़ में गुजारेंगे दो दिन

बीजेपी से गठबंधन पर ये रुख
जदयू का कहना है कि बीजेपी के साथ उसका गठबंधन बिहार तक ही सीमित है। पार्टी ने कर्नाटक और गुजरात जैसे राज्यों में बीजेपी के साथ गठजोड़ किए बिना चुनाव लड़ा था। अरुणाचल प्रदेश में बीजेपी सत्ता में है, वहां जदयू मुख्य विपक्षी दल है।

आपको बता दें कि जेडीयू ने दिल्ली का विधानसभा चुनाव बीजेपी के साथ गठबंधन में ही लड़ा था।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned