कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस का आरोप, ईवीएम में केवल 'कमल' पर दर्ज हो रहे वोट

कांग्रेस का आरोप है कि बेंगलुरू के ईवीएम में किसी भी बटन को दबाने पर वोट केवल 'कमल' को वोट दर्ज हो रहा है।

By: Chandra Prakash

Published: 12 May 2018, 06:15 PM IST

नई दिल्ली। कर्नाटक विधानसभा के शांतिपूर्ण वोटिंग के दौरान एक हैरान करने वाली खबर आई है। कांग्रेस का आरोप है कि बेंगलुरू के ईवीएम में किसी भी बटन को दबाने पर वोट केवल 'कमल' को वोट दर्ज हो रहा है। इससे पहले भी कई चुनावों में विपक्षी दल ये आरोप लगाते रहे हैं कि बीजेपी जीत के लिए ईवीएम से छेड़छाड़ करती है।

'बटन किसी का भी दबा, वोट कमल को गया'
कांग्रेस नेता ब्रिजेश कालप्पा ने शनिवार को कहा कि यहां के मतदान केंद्र के एक ईवीएम में कोई भी बटन दबाने पर वोट 'कमल' के निशान पर ही दर्ज हो रहा है। कांग्रेस प्रवक्ता कालप्पा ने ट्वीट किया, "उत्तरी उपनगर में आरएमवी-2 में स्थित मेरे माता-पिता के अपार्टमेंट के सामने पांच मतदान केंद्र हैं। दूसरे मतदान केंद्र में, कोई भी बटन दबाने पर 'कमल के फूल' को ही मतदान दर्ज हो रहा है। गुस्साए मतदाता बिन वोट डाले वापस लौट रहे हैं।"

यह भी पढ़ें: कर्नाटक चुनाव के दौरान ग्रामीणों ने मल्लिकार्जुन खड़गे को घेरा, रखी ये मांग

निर्वाचन आयोग ने नहीं की पुष्टि
कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि निर्वाचन आयोग के अधिकारी ने यहां मतदान कुछ देर के लिए रोक दिया था, जिसे बाद में बहाल कर दिया गया। निर्वाचन आयोग ने हालांकि अभी तक ईवीएम में इस तरह की शिकायत की पुष्टि नहीं की है।

बुर्के पर भी हुआ विवाद
यहां कुल 224 विधानसभा क्षेत्रों में से 222 सीटों पर सुबह सात बजे से मतदान शुरू होने के बाद, कुछ मतदान केंद्रों पर ईवीएम में गड़बड़ी, राजाजीनगर सीट पर बिजली संकट, कुछ मतदान केंद्रों पर नाम दर्ज न होने और बेलगावी मतदान केंद्र पर बुर्का पहनी महिला को चेहरा दिखाने के लिए कहने की रपट सामने आई है।

बूथ के पास बीजेपी कार्यकर्ताओं ने की पत्थरबाजी
यादगिर जिले के सुरापुर तालुक में भी हंगामा हुआ है। यहां चिगुराला गांव स्थित मतदान केन्द्र के निकट जमकर पथराव किया गया है। इस हादसे में पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। पुलिस के मुताबिक, बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने अचानक कुछ लोगों पर पथरवा करने शुरू कर दिए। इस पथराव में पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं, जिन्हें निटक के अस्पाताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि, सभी घायल खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं।

Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned