कर्नाटक चुनाव: कुमारस्वामी ने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया

वहीं भाजपा विधायक दल की बैठक में विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद बी एस येदियुरप्पा ने राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया।

By: Prashant Jha

Published: 16 May 2018, 06:23 PM IST

नई दिल्ली: कर्नाटक की कुर्सी को लेकर करीब 30 घंटों से रस्साकशी जारी है। सरकार बनाने को लेकर सियासत गरमा गई है। इसी सिलसिले में कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर ) JDS के नेता बुधवार की शाम राज्यपाल से मुलाकात की। कुमारस्वामी और कांग्रेस नेता परमेश्वर ने राज्यपाल से मिलकर विधायकों के समर्थन में चिट्ठी सौंपी । कुमार स्वामी ने 116 विधायकों के हस्ताक्षर वाले पत्र राज्यपाल को सौंपा है। स्वामी ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल से सरकार बना की अनुमति देने का आग्रह किया है। इधर राजभवन के बाहर कांग्रेस और जेडीएस नेताओं ने सरकार बनाने के लिए जमकर नारेबाजी की। राज्यपाल से मुलाकात के बाद कुमारस्वामी ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्यपाल ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि वह संविधान के हिसाब से फैसला लेंगे। We have submitted a list of 117 MLAs to governor and requested him to consider our claim to form govt: Kumaraswamy

कर्नाटक में किसी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं

गौरतलब है कि कर्नाटक चुनाव के परिणाम में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। ऐसे में सरकार बनाने पर संस्पेंस बरकरार है। हालांकि बीजेपी 104 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है। वहीं 78 सीटों पर कांग्रेस दूसरे नंबर की पार्टी है। जबकि जेडीएस 38 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर है। बड़ी पार्टी होने के नाते बीजेपी सरकार बनाने का दावा पेश कर रही है। इधर कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन के साथ सरकार बनाने का दावा किया है। कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर) ने सरकार बनाने के लिए पूर्ण बहुमत होने का दावा किया है। इससे पहले कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर) के नेताओं ने चेतावनी जारी की थी कि राज्यपाल की ओर से सरकार बनाने का न्योता नहीं मिलने पर राजभवन के बाहर धरना देंगे।

सही समय पर सही फैसला लिया जाएगा

वहीं भाजपा विधायक दल की बैठक में विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद बी एस येदियुरप्पा ने राज्यपाल वजुभाई आर वाला से मुलाकात कर सरकार बनाने का आधिकारिक दावा पेश किया । इस दौरान राज्यपाल ने कहा कि सही समय पर सही फैसला लिया जाएगा। राजभवन जाने से पहले मीडिया से बातचीत में उन्‍होंने कहा कि मैं, 17 मई को सीएम पद की शपथ लूंगा। बता दें कि बीएस येदियुरप्‍पा चुनाव प्रचार के समय से ही दावा करते रहे हैं वो सीएम बनेंगे और 17 मई को सीएम पद की शपथ लेंगे। ठीक वैसा ही हुआ आज विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद उन्‍होंने शपथ लेने की जानकारी मीडिया को दी है।

ये भी पढें: Video : एक क्लिक में जाने अबतक की 5 बड़ी खबरें

सियासी पार्टियों का खेल शुरू

वहीं सरकार बनाने की सियासी जोड़तोड़ में जुटी पार्टियों का खेल पूरे शबाब पर है। इसी बीच जनता दल (सेक्युलर) के नेता और कांग्रेस के समर्थन से मुख्यमंत्री बनने का दावा कर रहे एचडी कुमारस्वामी ने भारतीय जनता पार्टी पर बड़ा आरोप लगाया है। कुमारस्वामी ने दावा किया कि बीजेपी ने जेडीएस विधायकों को खरीदने के लिए 100 करोड़ रुपए का ऑफर दिया है।

ये भी पढ़ें: कर्नाटक में पार्टी के खस्ताहाल पर कांग्रेस में घमासान, मंत्री शिवकुमार ने सिद्दारमैया पर फोड़ा ठीकरा

राज्यपाल पर सबकी निगाहें

गौरतलब है कि किसी भी दल को सरकार बनाने के लिए बहुमत नहीं मिला। भाजपा 104 सीटों के साथ कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है। लेकिन बहुमत से आठ विधायक भाजपा के पास कम है। वहीं कांग्रेस 78 और जेडीएस 38 सीटों के साथ गठबंधन कर सरकार बनाने का दावा पेश कर रहे हैं। ऐसे में सभी की निगाहें राज्यपाल पर लगी हुई हैं कि वो किसे सरकार बनाने के लिए बुलाते हैं।

Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned