कर्नाटक: कांग्रेस बैठक में शामिल नहीं होने वाले विधायकों पर खड़गे बोले- जांच के बाद होगी कार्रवाई

गौरतलब है कि खड़गे ने भाजपा पर कांग्रेस के विधायकों को डारने का आरोप लगाया।

By: Prashant Jha

Updated: 20 Jan 2019, 08:21 AM IST

बेंगलुुरु: कर्नाटक में सियासी संग्राम थमने का नाम नहीं ले रहा है। कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज भी हो रही है। विधायकों की बैठक शुक्रवार को भी हुई थी। इसमें 4 कांग्रेस के विधायक शामिल नहीं हुए थे। बैठक में चार विधायकों के उपस्थित नहीं होने पर कांग्रेस ने वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हमने विधायकों को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। जिसमें दो विधायकों ने जवाब दिया है और दो लोगों का जवाब नहीं आया है। इस सिलसिले में हम पार्टी नेताओं के साथ बातचीत कर रहे हैं और जरूरत पड़ी तो कार्रवाई भी की जाएगी। गौरतलब है कि कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन की सरकार चल रही है। भाजपा पर सरकार को गिराने का आरोप है। कांग्रेस और जेडीएस का आरोप है कि भाजपा ऑपरेशन लोट्स के तहत लालच देकर हमारे विधायकों को तोड़ने का प्रयास कर रही है। वहीं भाजपा नेता बी एस येदियुरप्पा कांग्रेस के आरोपों को सिरे से खारिज कर रहे हैं।

पीएम मोदी पर भड़के खड़गे

गौरतलब है कि खड़गे ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि वह कर्नाटक में उनकी पार्टी के विधायकों को नियंत्रित करने’ का प्रयास कर रहे हैं। इसके साथ ही खड़गे ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार को अस्थिर करने के भाजपा कथित प्रयास में सीबीआई, ईडी और आयकर विभाग का उपयोग विधायकों को ‘तोड़ने’ के लिए कर रही है। हालांकि लोकसभा में कांग्रेस के नेता खड़गे ने कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ता 'मजबूत और प्रतिबद्ध' हैं तथा वे किसी दबाव में नहीं आएंगे।

ये है सदस्यों का आंकड़ा

एक नामित सदस्य को मिलाकर राज्य की कुल 224 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के पास 80 विधायक, जद (एस) के पास 37 विधायक, भाजपा के पास 104 विधायक हैं। निर्दलीय विधायक नागेश और केपीजेपी विधायक शंकर ने सरकार से समर्थन वापस ले लिया है। जबकि बहुजन समाज पार्टी के एक विधायक ने गठबंधन सरकार को अपना समर्थन बरकरार रखा है।

Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned