Kerala : कांग्रेस नेतृत्व वाली यूडीएफ का दावा - सत्ता में आए तो सबरीमाला में रीति-रिवाजों की रक्षा के लिए बनाएंगे कानून

  • सबरीमाला मंदिर परंपरा की रक्षा के लिए बनाएंगे कानून।
  • सत्ताधारी पार्टी इस मुद्दे पर गंभीरता से विचार करे।

By: Dhirendra

Updated: 07 Feb 2021, 08:22 AM IST

नई दिल्ली। केरल विधानसभा चुनाव 2021 को लेकर राजनीति चरम पर है। कांग्रेस के नेतृत्‍व वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट ने सबरीमला मंदिर की परंपराओं की रक्षा के लिए लोगों से समर्थन देने की अपील की है। फ्रंट के नेताओं ने कहा है कि सत्ता में आने पर सबरीमाला मंदिर के रीति-रिवाजों की रक्षा के जरूरी कानून बनाएंगे।

एलडीएफ वैकल्पिक उपाय पर करे विचार

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और विधायक तिरूवंचूर राधाकृष्‍णन ने इस मुद्दे पर एक प्रस्ताव पेश करते हुए कहा कि यूडीएफ सत्‍ता में आई तो इसे कानून बनाकर पारित करेंगे। प्रस्तावित कानून के तहत पुजारी की सलाह पर सबरीमला में अनधिकृत प्रवेश पर प्रतिबंध सुनिश्चित किया जाएगा। जो इस कानून का उल्‍लंघन करेगा उसे दो साल के कारावास की सजा हो सकेगी। इससे पहले कांग्रेस ने सत्ताधारी एलडीएफ सरकार से कहा था कि वह कोई वैकल्पिक उपाय सोचे। ताकि कथित तौर पर जल्‍दबाजी में लिए गए सरकारी फैसले से हुए नुकसान को ठीक किया जा सके।

अब मंदिर में है सभी को प्रवेश की अनुमति

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने सितंबर 2018 में दिए गए फैसले में पवित्र सबरीमला मंदिर में सभी आयुवर्ग की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति दी थी। इस आदेश को लेकर दक्षिणपंथी समूहों और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया था। सबरीमला मंदिर परंपरा के के समर्थक मंदिर परिसर में 10 से 50 आयुवर्ग की महिलाओं को जाने की अनुमति देने के खिलाफ थे।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned