CM Pinarayi Vijayan की अगुवाई में हुई कैबिनेट बैठक, बड़ा कदम उठाने जा रही केरल सरकार

  • CM Pinarayi Vijayan की अगुवाई में हुई मंत्रिमंडल की बैठक
  • भारतीय प्रेस परिषद में शिकायत दर्ज करेगी केरल सरकार
  • सचिवालय में आग की घटना को गलत ढंग से अखबार में छापने को लेकर उठाया बड़ा कदम

By: धीरज शर्मा

Published: 24 Sep 2020, 05:35 PM IST

नई दिल्ली। केरल सरकार बड़ा कदम उठाने जा रही है। दरअसल 25 अगस्त को सचिवालय में मामूली आग लगने की घटना के बारे में कुछ समाचार पत्रों में प्रकाशित मानहानिकारक खबरों को लेकर केरल सरकार सख्ती के मूड में है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ( CM Pnarayi Vijayan ) ने बड़ा फैसला लिया है। सीएम विजयन की अगुवाई में मंत्रिमंडल की बैठक आयोजित की गई।

इस बैठक में सचिवालय में लगी छोटी सी आग की घटना को मानहानिकारक खबरों की तरह बताए जाने को लेकर भारतीय प्रेस परिषद में शिकायत दर्ज करने का फैसला लिया गया है।

गुजरात के सूरत में स्थित ओएनजीसी गैस प्लांट में लगी भीषण आग, तीन धमाकों से दहले लोग

केरल सरकार सचिवालय में लगी आग की घटना को लेकर कुछ अखबारों के लिए खिलाफ लड़ाई के मूड में है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने मंत्रिमंडल की बैठक बुलाकर बड़ा फैसला लिया है।

ली जाएगी कानूनी राय
सीएम कार्यालय के एक बयान के मुताबिक सरकार ने उन कुछ अखबारों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कानूनी राय लेने का भी फैसला लिया है जिन अखबारों ने जानबूझकर इस तरह की खबरें प्रकाशित की जिससे गलतफहमी पैदा हो।

दरअसल सरकार की ओर से जारी बयानों पर गौर करें तो सरकारी कार्यों में लगे लोगों के विरूद्ध मानहानिकारक खबरों के प्रकाशन को लेकर सीआरपीसी की धारा 199 (2) के तहत कार्रवाई करने के लिए महाधिवक्ता से कानूनी राय मांगी जाएगी।

तेजी से बदल रही है मौसम की चाल, देश के इन राज्यों में अगले कुछ घंटों में भारी बारिश का जारी हुआ अलर्ट

इस धारा का संबंध मानहानि के लिए मुकदमा चलाने से है। सीएम पिनराई विजयन के कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक तीन अखबारों ने गलत तरीके से खबरें प्रकाशित कीं। इन खबरों में ये कहा गया था कि सोने की तस्करी से जुड़ी अहम राजनयिक फाइलें इस आग में नष्ट हो गईं।

सचिवालय में आग की घटना को लेकर अखबारों की खबर के आधार पर माकपा नीत राज्य सरकार को निशाना बनाते हुए कांग्रेस और भाजपा ने आरोप लगाया था कि उन्हें संदेह है कि इसके पीछे सनसनीखेज सोने की तस्करी से जुड़ी अहम फाइलों को नष्ट करने की मंशा रही होगी।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned