अन्य राज्यों में भूमि कानून जम्मू-कश्मीर में नए भूमि कानूनों से अधिक मजबूत: Omar Abdullah

  • Jammu-Kashmir के पूर्व मुख्यमंत्री और NC नेता उमर अब्दुल्ला ने बड़ा बयान दिया
  • अन्य राज्यों में भूमि कानून जम्मू-कश्मीर में नए भूमि कानूनों से अधिक मजबूत हैं

By: Mohit sharma

Updated: 29 Oct 2020, 10:11 PM IST

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर और आर्टिकल 370 को लेकर बयानबाजी कम होने का नाम नहीं ले रही हैै। इस क्रम में पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने बड़ा बयान दिया है। उमर अब्दुल्ला ने गुरुवार को कहा कि अन्य राज्यों में भूमि कानून जम्मू-कश्मीर में नए भूमि कानूनों से अधिक मजबूत हैं। आज भी भारत के लोग एचपी, लक्षद्वीप, नागालैंड में जमीन नहीं खरीद सकते हैं ... उन्होंने कहा कि पता नहीं कि जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीदने की हमारी गलती क्या है। अगर हम इसके खिलाफ बोलते हैं, तो हमें राष्ट्र-विरोधी कहा जाता है।

 

आपको बता दें कि इससे पहले पीडीपी सुप्रीमों महबूबा मुफती ने जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हटाने का विरोध किया था। उन्होंने कहा था कि जब तक वो हमारा हक हमें वापस नहीं करते तब तक हमारा संघर्ष जारी रहेगा। यहां तक कि महबूबा ने राष्ट्र ध्वज को लेकर भी विवादित बयान दिया था, जिससे नाराज होकर उनकी पार्टी के तीन नेताओं ने इस्तीफा दे दिया था।

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned