लोकसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, स्पीकर बिड़ला बोले- ऐतिहासिक सत्र में 36 बिल पास

लोकसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, स्पीकर बिड़ला बोले- ऐतिहासिक सत्र में 36 बिल पास

Prashant Kumar Jha | Updated: 06 Aug 2019, 09:40:20 PM (IST) राजनीति

  • लोकसभा सत्र के समापन पर ओम बिड़ला का बयान
  • 1952 से अभी तक सबसे ज्यादा बिल पारित हुए
  • नए सांसदों को ज्यादा से ज्यादा प्रश्न पूछने का मौका मिला

नई दिल्ली। लोकसभा में जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल पास होने के साथ अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गई। लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ( Lok Sabha Speaker OM Birla ) ने कहा कि यह ऐतिहासिक सत्र रहा। उन्होंने कहा कि 24 जून को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव को 13 घंटे की चर्चा के बाद स्वीकार किया।

सत्र में सबसे ज्यादा काम हुआ

लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा कि महत्वपूर्ण विधायी कामों का तेजी से निपटारा किया गया। उन्होंने कहा कि बजट पर 23 घंटे, रेलवे अनुदानों पर 13 घंटे, ग्रामीण विकास अनुदानों पर 9 घंटे, सड़क अनुदान मांगों पर 7 घंटे, युवा मसलों की मांगों पर 4 घंटे तक चर्चा हुई। मौजूदा सत्र में कुल 36 विधेयक पारित हुए और संसद के अंदर 1952 से अभी तक सबसे ज्यादा बिल पारित हुए हैं। उन्होंने कहा कि लोकसभा में 183 तारांकित प्रश्नों के जवाब मंत्रियों ने दिए हैं।

ये भी पढ़ें: लोकसभा से जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पास, पक्ष में 370 और विपक्ष में 70 वोट

 

संसद भवन भव्य और आकर्षक बने

इससे पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा कि सभी की अपेक्षा है कि दुनिया का सबसे विशाल लोकतंत्र का संसद भवन सबसे भव्य और सबसे आकर्षक बने। ऐसे में प्रधानमंत्री से आग्रह है कि भारत की आजादी के 2022 में 75 वर्ष पूरे होने पर नए भारत के उनके संकल्प में संसद भवन को आधुनिकीकरण को शामिल किया जाए।

ये भी पढ़ें: लोकसभा में ओवैसी बोले, धारा 370 को हटाना संघीय ढांचे पर प्रहार, बिल का विरोध करते हैं

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned