NEET UG-JEE Main 2020 को रुकवाने में जुटीं दीदी, विपक्षी दलों से सुप्रीम कोर्ट पहुंचने की अपील

  • पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee ) ने मंगलवार को विपक्षी दलों ( Opposition parties ) से की अपील।
  • कोरोना महामारी ( Coronavirus Pandemic ) के दौरान छात्रों के स्वास्थ्य जोखिम का हवाला देते हुए जेईई-नीट परीक्षा ( NEET UG and JEE Main 2020 ) टालने की मांग की।
  • सोनिया गांधी ( Sonia Gandhi ) द्वारा विपक्ष शासित प्रदेशों के सीएम की बैठक के दौरान कही बात।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि विपक्षी दलों द्वारा शासित राज्यों जैसे महाराष्ट्र, पंजाब, पश्चिम बंगाल, झारखंड को सामूहिक रूप से जेईई-नीट ( NEET UG and JEE Main 2020 ) के आयोजन को टालने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख करना चाहिए।

केंद्र सरकार ने किसी की भी ना सुनी, NTA ने कर दी JEE Main और NEET 2020 की तारीखों की घोषणा

कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी और कुछ विपक्ष शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा में भाग लेते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री के सामने अपनी चिंताओं को उठाया है। उन्होंने कहा, "परीक्षा सितंबर में हैं। छात्रों के जीवन को जोखिम में क्यों डाला जाए? हमने पीएम को लिखा है, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। अगर प्रधानमंत्री हमारी बात नहीं मानते हैं, तो हम सभी (राज्यों) को सामूहिक रूप से सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने पर विचार करना चाहिए।"

बनर्जी ने आगे कहा कि ट्रेनों की आवाजाही बाधित होने के अलावा COVID-19 महामारी का छात्रों के मानसिक स्वास्थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ा है। उन्होंने कहा, "मैं राज्य सरकारों से अनुरोध करती हूं कि हम इसे मिलकर करते हैं। चलो सुप्रीम कोर्ट में चलते हैं और अनुरोध करते हैं कि इसे तब तक के लिए स्थगित कर दें (जब तक) स्थिति सही नहीं हो जाती। हम अपने छात्रों के साथ खड़े हैं, उन्हें जिस भी मदद की जरूरत होती है, हम उसे पूरा करने के लिए तैयार हैं।"

उन्होंने कहा, "हम पूरी कोशिश कर रहे हैं, लेकिन श्रमिकों को वेतन देना बहुत मुश्किल हो गया है। बिल्कुल भी धन उपलब्ध नहीं है, असंगठित क्षेत्र, एमएसएमई, किसानों को बहुत नुकसान हो रहा है। भारत में एक तीव्र संकट है और हम इसके बारे में खुलकर नहीं बोल सकते, मीडिया भी नहीं बोल सकता है।"

Sputnik-V: रूस की COVID-19 Vaccine कब आएगी भारत, केंद्र सरकार ने दी जानकारी

गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के बीच इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा के आयोजन को लेकर देशभर से विरोध के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इन्हें ना कराने की अपील भी की गई थी। हालांकि केंद्र सरकार ने किसी की भी एक ना सुनी और मंगलवार शाम को नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने दोनों परीक्षाओं के आयोजन पर फैसला सुना दिया। NTA ने घोषणा की कि JEE Main 2020 और NEET 2020 परीक्षाएं पूर्व निर्धारित तिथियों पर ही आयोजित की जाएंगी।

एनटीए द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक JEE (Main) को 1 से 6 सितंबर 2020 तक आयोजित कराया जाएगा। वहीं, NEET (UG) परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित होगी। एनटीए ने JEE (Main) परीक्षा के प्रवेश पत्र जारी कर दिए हैं। जबकि NEET 2020 के प्रवेश पत्र भी जल्द जारी किए जाएंगे। इसके साथ ही एनटीए यह भी सुनिश्चित करेगा कि 99 फीसदी से ज्यादा अभ्यर्थियों को उनके द्वारा मांगे गए शहरों में ही परीक्षा केंद्र आवंटित किए जाएं।

Coronavirus Pandemic
Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned