कर्नाटक चुनाव के बाद ममता बनर्जी ने दिखाया कांग्रेस को आईना, लोकसभा चुनाव पर नजर

कर्नाटक चुनावों में कांग्रेस की हार के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी ने जेडीएस के साथ गठबंधन किया होता तो आज नतीजे कुछ और होते।

By: Siddharth Priyadarshi

Published: 16 May 2018, 02:11 PM IST

नई दिल्ली। कर्नाटक का सियासी पारा इस समय उफान पर है। विधानसभा चुनाव में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है जिससे कांग्रेस और बीजेपी दोनों सरकार बनाने के लिए पुरजोर कोशिशें कर रहे हैं। परिणाम आने के तुरंत बाद कांग्रेस ने जहां जेडीएस के एच डी कुमारस्वामी को को बिना शर्त समर्थन देकर सरकार बनाने का प्रस्ताव दे दिया है, वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरकर सामने आई बीजेपी ने भी राज्‍यपाल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है ।

जेल से रिहा किए गए मलेशिया के पूर्व डिप्टी पीएम अनवर इब्राहिम

मुखर हुईं ममता

कर्नाटक चुनावों में कांग्रेस की हार के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी ने जेडीएस के साथ गठबंधन किया होता तो आज नतीजे कुछ और होते। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस नेता ने अफसोस जाहिर करते हुए कांग्रेस को सलाह दी कि कि वह बीजेपी के सफाए के लिए जनता दल समर्थ प्रांतीय दलों के साथ सहयोग करे। कांग्रेस द्वारा कर्नाटक में जेडीएस के एच डी कुमारस्वामी को बिना शर्त समर्थन देने के प्रस्ताव पर ख़ुशी जाहिर करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि "मैं हमेशा से कहती आई हूं कि देश की राजनीति में क्षेत्रीय मोर्चा और क्षेत्रीय पार्टियों की बेहद अहम भूमिका है।यदि राष्ट्रीय पार्टियां क्षेत्रीय पार्टियों का भरोसा नहीं जीतती हैं तो उनके लिए मौजूदा राजनीति में टिकना नामुमकिन है।"

इसे पहले ट्वीट के जरिये कर्नाटक चुनाव पर प्रतिक्रिया देते हुए ममता बनर्जी ने कहा था कि यदि कर्नाटक में कांग्रेस ने जेडीएस के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ा होता तो नतीजे अलग ही होते।

कश्मीर में घुसे पांच आतंकी, पीएम मोदी के दौरे पर दहशतगर्दी का साया

 

2019 है ममता के निशाने पर

ममता बनर्जी 2019 के चुनावों के लिए बीजेपी के खिलाफ एक राष्ट्रीय मोर्चा गठित करने की प्रक्रिया में हैं। गौर तलब है कि वह इस मोर्चे का नेतृत्व करने की मंशा भी जता चुकी हैं। अभी तक कांग्रेस पार्टी और उसके अध्यक्ष राहुल गांधी उनकी इस महत्वाकांक्षा के सामने खड़े थे। कर्नाटक चुनाव में हार ने अब राहुल गांधी की राष्ट्रीय राजनीति का नेतृत्व करने की क्षमता और उनकी स्वीकार्यता पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है। फिलहाल कर्नाटक के परिणामों से ममता बनर्जी बेहद खुश हैं। ममता बनर्जी दबे छुपे का यह दावा कर रही हैं कि 'कर्नाटक नतीजों से कांग्रेस को साफ समझ आ चुका है कि अब वह बीजेपी के खिलाफ बनने वाले किसी भी मोर्चे को लीड करने की स्थिति में नहीं है। उसे क्षेत्रीय दलों के समर्थन और उनकी लोकप्रियता को स्वीकार करना होगा।'

BJP Congress Prime Minister Narendra Modi
Siddharth Priyadarshi Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned