मणिशंकर अय्यर के फिर बिगड़े बोल, भारत से कहीं ज्यादा प्यार पाकिस्तान में मिला

मणिशंकर अय्यर के फिर बिगड़े बोल, भारत से कहीं ज्यादा प्यार पाकिस्तान में मिला

Prashant Kumar Jha | Publish: Feb, 13 2018 09:00:40 PM (IST) राजनीति

अय्यर ने कहा, 'हजारों लोगों को मैं जानता तक नहीं हूं, लेकिन वो मुझसे आकर गले लग रहे हैं। मुझे भारत से कहीं ज्यादाप्यार पाकिस्तान में मिला।

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी से निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर ने मंगलवार को चौबीस घंटे के अंदर एक बार फिर विवादित बयान दिया है। मणिशंकर अय्यर ने कहा है कि पाकिस्तान के लोगों ने उन्हें बहुत प्यार किया जबकि भारत में उससे कही ज्यादा नफरत मिली है। गौरतलब है कि सोमवार को अय्यर ने कहा था कि जितना प्यार वे भारत से करते हैं, उतना ही मोहब्बत पाकिस्तान से भी करते हैं।

हजारों अजनबी गले मिले

अय्यर ने अपने ताजा बयान में कहा, 'हजारों लोगों को मैं जानता तक नहीं हूं, लेकिन वो मुझसे आकर गले लग रहे हैं। जितनी नफरत मुझे भारत में मिली है, उससे कहीं ज्यादा प्यार पाकिस्तान में मिला है। मैं यहां बहुत खुश हूं। यहां लोग तालियां बजा रहे हैं, क्योंकि मैं शांति की बात करता हूं।' यहां तक की इस्लामाबाद भी संवाद के लिए तैयार है। लेकिन नई दिल्ली इसको लेकर गंभीर नहीं है।

कराची साहित्य सम्मेलन में हिस्सा लेने गए थे अय्यर

कराची साहित्‍य सम्‍मेलन में शिरकत करने वाले अय्यर ने कहा कि भारत-पाकिस्तान मुद्दों को हल करने का एक ही रास्ता है। दोनों देश आपस में नियमित रूप से संवाद जारी रखें। आपको बता दूं कि वह पाकिस्तान कराची साहित्य महोत्सव में भाग लेने पहुंचे थे। इससे पहले भी वो पाक के समर्थन में बोल चुके हैं। उनके लिए यह कोई पहला मौका नहीं है। पीएम मोदी पर गलतबयानी के लिए उन्‍हें राहुल गांधी ने पार्टी से निलंबित कर रखा है। कुछ दिनों पहले उन्‍होंने जम्‍मू और कश्‍मीर में अलगाववादी नेताओं से मुलाकात के दौरान भी कुछ इसी तरह का बयान दिया था।

मोदी पर मणिशंकर अय्यर ने किया था अभद्र टिप्पणी

मणिशंकर अय्यर ने इससे पहले गुजरात चुनाव के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी का जिक्र करते हुए नीच शब्द का इस्तेमाल किया था। इसके बाद पीएम मोदी ने इसे चुनावी मुद्दा बना दिया था। नतीजा ये रहा कि कांग्रेस दबाव में आ गई और उनको पार्टी से निलंबित कर दिया गया। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को भी मीडिया के सामने कहना पड़ा कि अय्यर का बयान गलत था। इतना ही नहीं कांग्रेस को गुजरात चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा। इस हार के लिए मणिशंकर अय्यर के बयान को अहम माना गया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned