...जब स्टालिन ने करुणानिधि से कहा, 'क्या आपको आखिरी बार अप्पा कह सकता हूं'

...जब स्टालिन ने करुणानिधि से कहा, 'क्या आपको आखिरी बार अप्पा कह सकता हूं'

Mohit sharma | Updated: 08 Aug 2018, 10:39:15 AM (IST) राजनीति

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) के नेता एम. के. स्टालिन ने अपने दिवंगत पिता और पार्टी नेता एम. करुणानिधि की याद में बुधवार को एक भावुक पत्र लिखा।

चेन्नई। द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) के नेता एम. के. स्टालिन ने अपने दिवंगत पिता और पार्टी नेता एम. करुणानिधि की याद में बुधवार को एक भावुक पत्र लिखा। पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे 94 वर्षीय करुणानिधि का यहां मंगलवार को एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। पत्र में स्टालिन ने कहा कि आपको अप्पा, अप्पा कहकर बुलाने की बजाए मैंने कई बार आपको थलाइवरय, थलाइवरय (मेरे नेता) कहकर बुलाया है। थलाइवरय क्या मैं आपको एक बार अप्पा कहकर पुकार सकता हूं।

पुश्‍तैनी जमीन पर हॉस्पिटल बनवाना चाहते थे करुणानिधि, निधन से पहले जताई थी अंतिम इच्छा

करुणानिधि की फिल्मों के नायक हुआ करते थे एमजीआर, इन अभिनेताओं का संवारा करियर

एम. करुणानिधि का मंगलवार को निधन

स्टालिन ने कहा कि तीस साल पहले, आपने कहा था कि आपकी कब्र पर ये शब्द अंकित होने चाहिए .. वह व्यक्ति जिसने आराम किए बिना काम किया था, यहां आराम कर रहा है। क्या आप तमिल समुदाय के लिए कड़ी मेहनत करने की संतुष्टि के साथ विदा हुए हैं। तमिलनाडु के पूर्व सीएम और डीएमके सुप्रीमो एम. करुणानिधि का मंगलवार (सात अगस्त) को निधन हो गया। करुणानिधि के निधन की खबर से उनके समर्थकों को गहरा आघात लगा और पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई।

डीएमके चीफ करुणानिधि के निधन पर देश में आज राष्ट्रीय शोक, आधा झुका रहेगा राष्ट्र ध्वज

पाकिस्तानी गर्लफ्रेंड के सवाल पर थरूर का जवाब, 100 देशों में मेरी फ्रेंड गर्ल हैं

13 बार विधायक चुनकर आए

डीएमके चीफ की अंतिम इच्छा थी कि उनके बाद उनकी पुस्तैनी जमीन का इस्तेमाल जनसेवा के लिए किया जाए। यही कारण है उन्होंने अपनी पुस्तैनी जमीन ट्रस्ट के नाम लिख दी थी। वह इस जमीन पर गरीबों के लिए एक हॉस्पिटल बनाना चाहते थे। करुणानिधि न केवल 13 बार विधायक चुनकर आए, बल्कि पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री भी रहे। उनके राजनीतिक करियर ने बुलंदियों को छुआ और जनता ने भी उनको अपना सिरमोर बनाया।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned