सुषमा को सिद्धू का खुला खत- करतारपुर गुरुद्वारा कॉरिडोर पर उठाएं कदम, सुधरेंगे भारत-पाक के रिश्ते

सुषमा को सिद्धू का खुला खत- करतारपुर गुरुद्वारा कॉरिडोर पर उठाएं कदम, सुधरेंगे भारत-पाक के रिश्ते

Pritesh Gupta | Publish: Sep, 09 2018 10:09:34 PM (IST) राजनीति

'यह समय भारत को एक बेहद भावनात्मक मुद्दे पर सकारात्मक कदम लेने का है। जब अवसर दस्तक दे रहा है तो कृपया कदम उठाएं और दरवाजे को खोलें।'

चंडीगढ़। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की करतारपुर गुरद्वारा कॉरिडोर मुद्दे पर सराहना करने को लेकर भारतीय जनता पार्टी की आलोचनाओं से बेखबर पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने इस मुद्दे पर एक 'सकारात्मक कदम' उठाने की मांग करते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को एक खुला खत लिखा है।

'अवसर दस्तक दे रहा है, कृपया कदम उठाएं'

सिद्धू ने अपने पत्र में कहा है, 'यह समय भारत को एक बेहद भावनात्मक मुद्दे पर सकारात्मक कदम लेने का है। जब अवसर दस्तक दे रहा है तो कृपया कदम उठाएं और दरवाजे को खोलें। इस कॉरिडोर का खुलना दुनियाभर के सिख समुदाय के लिए एक बड़ी बात होगी। हालांकि दोनों पड़ोसियों के बीच संबंध दशकों से खराब हैं, लेकिन फिर कॉरिडोर को खोलने से दोनों देशों में शांति व समृद्धि आ सकती है।'

'कुछ सकारात्मकता मेरे शपथ ग्रहण में जाने से आई'

सिद्धू अपने दोस्त इमरान खान के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तौर पर 18 अगस्त को इस्लामाबाद में हुए शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद थे। सिद्धू ने अपने पत्र में कहा है, 'अब एक अवसर ने हमारे दरवाजे पर दस्तक दी है। पाकिस्तान ने लंबे समय से लंबित कॉरिडोर की मांग की दिशा में एक सकारात्मक संकेत दिया है। कुछ सकारात्मकता मेरे इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के दौरान आई।'

'करतारपुर साहिब के लिए नहीं लगेगा वीजा'

उन्होंने लिखा, 'अब पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने स्पष्ट रूप से कहा है कि कॉरिडोर खोला जाएगा और यहां तक कि करतारपुर साहिब गुरद्वारा की यात्रा के लिए वीजा की भी जरूरत नहीं होगी। इसे गुरु नानक देव की 550वीं जयंती समारोह के हिस्से के तौर पर किया जा रहा। यह भारत के लिए एक बेहद भावनात्मक मुद्दे पर सकारात्मक कदम लेने का समय है।'

गुजरातः रूपाणी सरकार पर बरसे हार्दिक- 'अंग्रेजों की हुकूमत और वाघा बॉर्डर देखनी है तो मेरे घर आइए'

Ad Block is Banned