NDA v/s UPA: सवाल मिलावट का, पर 'भानुमती का कुनबा' दोनों ही

  • 2019 में NDA में करीब 40 पार्टियां शामिल
  • NDA के मुकाबले कांग्रेस नीत गठबंधन UPA में पार्टियों की संख्या आधी
  • NDA और UPA, महागठबंधन या 'महामिलावट' ?

By: Prashant Jha

Updated: 10 Apr 2019, 10:09 PM IST

प्रशान्त कुमार झा

नई दिल्ली। वक्त बदला, हालात बदले और राजनीति का चेहरा भी बदल गया। राजनीति अब गठबंधन की है। गत दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक बयान से राजनीति गरमा गई। पीएम मोदी ने संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन ( UPA ) महागठबंधन को 'महामिलावट' करार दिया। गौरतलब ये है कि जिस राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ( NDA ) का नेतृत्व मोदी कर रहे हैं, उसमें लगभग 40 पार्टियां शामिल हैं। जबकि UPA में 22 पार्टियां शामिल हैं। यानी NDA के मुकाबले कांग्रेस नीत गठबंधन में पार्टियों की संख्या लगभग आधी है। एक पुरानी कहावत है, 'कहीं की ईंट कहीं का रोड़ा, भानुमति ने कुनबा जोड़ा' , यह दोनों ही गठबंधन पर फिट बैठती है। यह और बात है कि कांग्रेस नीत गठबंधन UPA को 'महामिलावट' कहने के पीछे नरेंद्र मोदी के अपने तर्क हैं। मोदी कहते हैं कि महामिलावट में दो तरह के लोग हैं। एक जो जमानत पर हैं, और दूसरे जेल जाने को तैयार हैं। इसमें सत्ताप्रेमी और वंशवादी हैं। वहीं कांग्रेस ने भी इस पर कड़ा पलटवार किया है। कांग्रेस ने इसे हार की हताशा में दिया गया बयान बताया है। साथ ही यह भी कहा है कि जनता अब 'जुमलों के जाल' में नहीं फंसने वाली है।

UPA को मोदी विरोधी दलों की सहानुभूति

अभी तक के आंकड़ों पर गौर करें तो NDA 40 छोटे-बड़े दलों का गठबंधन है। वहीं UPA में भी तकरीबन 20 से ज्यादा पार्टियां हैं। हालांकि जो दल UPA के साथ नहीं है भी हैं वह मोदी को सत्ता से हटाने के लिए गाहेबगाहे एक मंच पर दिख जाते हैं। विपक्ष की एकजुटता की वजह से PM ने इसे महामिलावट करार दिया था। बात अगर UPA गठबंधन की करें तो 2014 में 13 दल एक ही छतरी के नीचे चुनाव लड़ रहे थे, लेकिन 2019 के चुनाव में UPA का कुनबा बढ़कर 22 दलों का हो चुका है। UPA को ऐसे दलों की सहानुभूति भी मिल रही है जो गठबंधन में तो नहीं है, लेकिन मोदी के विरोध में खड़े हैं। बता दें कि 16वीं लोकसभा के चुनाव में UPA को 60 सीटों पर संतोष करना पड़ा था। जिसमें 44 सीटें कांग्रेस की झोली में आई थीं। वहीं दोनों गठबंधन से अलग तीसरे मोर्चा 147 सीटों के साथ संख्या बल में UPA से आगे था। जबकि NDA को 336 सीटें मिली थीं।

ये भी पढ़ें: गुजरात में सियासी भूचाल, अल्पेश ठाकोर के साथ दो और विधायकों का कांग्रेस से इस्तीफा

ये है गठबंधन का गणित

क्या है भाजपा और कांग्रेस के अपने-अपने तर्क। कौन कितना मिलावटी है, फैसला जनता पर छोड़ते हैं। आइए आंकड़ों के जरिए समझते हैं गठबंधन के इस गणित को।

2019 में NDA के घटक दल 2014 में NDA के घटक दल
भाजपा, शिवसेना, JD(U), लोक जनशक्ति पार्टी (LJP), AIADMK, शिरोमणि अकाली दल (SAD), अपना दल (S), रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) (A), बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (BPF), नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (NDPP), ऑल इंडिया एनआर सी (AINRC), नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP), मिजो नेशनल फ्रंट (MNF), राष्ट्रीय समाज पक्ष (RSP), शिव संग्राम (SS), महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (MGP), गोवा फॉर्वर्ड पार्टी (GFP), गोवा विकास पार्टी GVP, ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन AJSU, PMK, देसिया मुरपोक्कु द्रविड़ कड़गम( DMDK), IPFT, मणिपुर
पीपुल्स पार्टी (MPP), कमतापुर पीपुल्स पार्टी (KPP), यूनाइटेड डेमोक्रैटिक पार्टी (UDP), HSPDP, केरला कांग्रेस
थॉमस (KC(T), भारत धर्म जन सेना (BDJS), केरला कामराज कांग्रेस (KKC), प्रजा सोशोलिस्ट पार्टी (PSP), डेमोक्रेटिक लेबर पार्टी (केरला ) DLP (K), केरला विकास कांग्रेस ( KVC), प्रवासी निवासी पार्टी (PNP), केरला कांग्रेस (N), पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट PDF, असम गण परिषद (AGP) समेत 40 दल।
भाजपा, शिवसेना, शिरोमणि अकाली दल, तेलगु देशम पार्टी, लोक जनशक्ति पार्टी (LJP),राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (RLSP),अपना दल, देसिया मुरपोक्कु द्रविड़ कड़गम( DMDK) , पाट्टाली मक्कल कॉची (PMK), हरियाणा जनहित कांग्रेस (HJC) (BL), स्वाभिमान पक्ष, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया RPI(A), राष्ट्रीय समाज पक्ष, (RSP), कोंगुनाडु मक्कल देसिया कच्ची (KMDK), इंडिया जननायगा काची(IJK), न्यू जस्टिस पार्टी NJP, केरला कांग्रेस (N), रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी RSP (B), राष्ट्रीय समाज पक्ष RSP,जन सेना पार्टी JSP, स्वाभीमान पक्ष, गोरखा जनमुक्ति मोर्चा, GJM, इंडिया जनयांग काची IJK, महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी MGP, नागा पीपल्स फ्रंट, मिजो नेशनल फ्रंट, नेशनल पीपुल्स पार्टी, (NPP), ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस (AINR)C, नॉर्थ-ईस्ट रिजिनल पॉलिटिकल फ्रंट (NE RPF) NDA को 8 अन्य दलों का भी समर्थन प्राप्त था।
2019 में UPA के घटक दल 2014 में UPA के घटक दल
कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, राष्ट्रीय जनता दल, द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम, राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (RLSP),इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML), झारखंड मुक्ति मोर्चा, जनता दल (S), कांग्रेस KC (M), राष्ट्रीय लोक दल, रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी, स्वाभिमान पक्ष, भारतीय ट्रायबल पार्टी (BTP), झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) JVM (P), हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM), केरला कांग्रेस KC(J), कम्युनिस्ट मार्क्सिस्ट पार्टी (J), पीस पार्टी ऑफ इंडिया, महान दल, कर्नाटक प्रज्ञनयावंथा जनता पार्टी, तेलंगाना जन समिति TJS, लोकतांत्रिक जनता दल । कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, राष्ट्रीय लोक दल, राष्ट्रीय जनता दल, झारखंड मुक्ति मोर्चा, जम्मू और कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस (J&KNC), महान दल, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML), सोशलिस्ट जनता दल (D), केरला कांग्रेस (M), रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी, बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट BPF, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया ।
congressbjp

2014 के चुनाव परिणाम

NDA

336
UPA
60
OTHER 147
ToTal 543

2019 के चुनाव परिणाम

NDA ?
UPA ?
OTHER ?

23 मई को आएंगे चुनाव परिणाम

Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download patrika Hindi News App.

Prime Minister Narendra Modi pm modi news
Show More
Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned