अब काम की बारीः नए मंत्रियों ने शुरू किया कामकाज, अब तक कई मंत्री संभाल चुके चार्ज

रेल मंत्री अश्विनी वैष्ण और सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने संभाला अपना काम, बोले- पीएम मोदी ने जो जिम्मेदारी दी और विश्वास जताया है उस पर खरा उतने की रहेगी कोशिश

By: धीरज शर्मा

Updated: 08 Jul 2021, 01:05 PM IST

नई दिल्ली। मोदी कैबिनेट ( Modi Cabinet ) के नए मंत्रियों ने शपथ लेने के दूसरे ही दिन अपना कामकाज संभालना शुरू कर दिया है। गुरुवार को सभी 43 मंत्री अपने-अपने मंत्रालय का कामकाज संभाल लेंगे। इसके बाद शाम को ही इनकी प्रधानमंत्री मोदी ( PM Narendra Modi ) के साथ कैबिनेट मीटिंग है। माना जा रहा है कि इस मीटिंग में कुछ अहम फैसले भी लिए जा सकते हैं।

गुरुवार सुबह से ही नए मंत्रियों ने अपने मंत्रालय पहुंचकर काम संभालना शुरू कर दिया। सबसे पहले रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ( Ashwini Vaishnav ) अपने ऑफिस पहुंचे और काम शुरू किया। अब तक 20 से ज्यादा मंत्रियों ने अपना पदभार संभाल लिया है।

यह भी पढ़ेँः पीेम मोदी ने नई कैबिनेट को लेकर बुलाई दो बैक-टू-बैक मीटिंग, फिर ले सकते हैं कोई बड़ा फैसला

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री का कार्यभार संभाला। नए शिक्षा और कौशल विकास मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी वहां मौजूद रहे।

नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया कार्यभार संभालने से पहले भाजपा कार्यालय पहुंचे। सिंधिया ने कहा, ''मैं अपनी पूरी क्षमता से जिम्मेदारी निभाने की कोशिश करूंगा। मुझे उम्मीद है कि मैं सभी उम्मीदों पर खरा उतरूंगा। मैं कड़ी मेहनत करूंगा, ठीक वैसे ही जैसे मैंने पिछले 15-20 सालों में लोगों के लिए काम किया।''

जी किशन रेड्डी ने संस्कृति और पर्यटन मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला।

देश के नए स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पदभार संभाल लिया है। इस दौरान उन्होंने पहले पूजा पाठ की। गुजरात से बीजेपी के सांसद हैं मनसुख मांडविया। डॉ. हर्षवर्धन की जगह उन्होंने स्वास्थ्य मंत्रालय दिया गया है।

आरसीपी सिंह ने आज अपना पदभार संभाल लिया है। उन्हें इस्पात मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। सिंह जेडीयू कोटे से मंत्री बनाए गए हैं। आरसीपी सिंह जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं।

किरेन रिजिजू ने देश के नए कानून मंत्री के रूप में कार्यभार संभाल लिया है। इससे पहले ये मंत्रालय रविशंकर प्रसाद के पास था। वहीं रिजिजू पहले खेल मंत्रालय की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।

महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री नारायाण राणे को भी कैबिनेट में जगह मिली है। उन्हें MSME मिनिस्ट्री दी गई है। इससे पहले ये मंत्रालय नितिन गडकरी के पास था।

इसके अलावा राजीव चंद्रशेखर, दर्शन विक्रम जारदोश, डॉ. भारत प्रवीण पवार समेत कई अन्य मंत्री भी अपना कामकाज संभाल चुके हैं।

रेल मंत्री बने अश्विनी वैष्णव ने अपना कामकाज संभालने के साथ ही पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी चाहते हैं कि गरीब से गरीब और पिछड़े वर्ग तक सुविधाओं का लाभ पहुंचे। उनके इसी विजन को ध्यान में रखकर कामकाज करेंगे। उम्मीद ना सिर्फ पीएम मोदी की बल्कि जनता की उम्मीदों पर भी खरा उतरेंगे।

वैष्णव ने कहा कि कोरोना काल में चुनौतियां बड़ी हैं, लेकिन मेहनत और सही विजन के साथ आगे बढ़ेंगे तो हर चुनौती का सामना आसानी से किया जा सकेगा।

अनुराग ठाकुर भी पहुंचे ऑफिस
अनुराग ठाकुर ने भी गुरुवार को सूचना प्रसारण मंत्री के रूप कामकाज संभाला। इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने मुझे जो जिम्मेदारी दी है और जो विश्वास व्यक्त किया है उस पर खरा उतरने का हरसंभव प्रयास करूंगा।

किरन रिजिजू ने भी अपना कामकाज संभाला। उन्हें खेल मंत्री की जगह उन्हें कानून एवं न्यायमंत्री बनाया गया है।वहीं कैबिनेट मंत्री बनाए जाने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने समर्थकों से मिले।

यह भी पढ़ेँः Modi Cabinet में 7 महिलाओं ने ली शपथ, किसी ने नहीं की शादी, तो कोई पहली बार में ही बनी मंत्री

जेपी नड्डा से मिलेंगे सभी नए मंत्री
कैबिनेट मिनिस्टर के तौर पर शपथ लेने वाले सभी नए मंत्री गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलेंगे। बताया जा रहा है कि 10.30 बजे बाद पार्टी मुख्यालय में ये मुलाकात होगी। इसे औपचारिक मुलाकात बताया जा रहा है। इसमें नड्डा पार्टी की विचारधारा और कामकाज के तरीके के बारे में बताएंगे।

PM Narendra Modi
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned