निर्मला सीतारमण के इस फैसले से रक्षा मंत्रालय के काम में आएगी तेजी

तीनों सेना प्रमुखों के साथ रोज होगी बैठक

By:

Published: 11 Sep 2017, 10:16 PM IST

नई दिल्ली. अहमदाबाद. देश की पहली पूर्ण कालिक रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने मंत्रालय का कामकाज चुस्त-दुरुस्त करने के लिए बड़ा फैसला लिया है। रक्षा मंत्री के तौर पर काम संभालने के बाद उन्होंने मंत्रालय से संबंधित कामों की जानकारी ली। इसके लिए वे लगातार अधिकारियों के साथ बैठक कर रही हैं। कुछ बड़े मुद्दों पर उन्होंने अधिकारियों को निर्देश भी दिया है। रक्षा मंत्री अब रोज तीनों सेनाओंं के प्रमुखों और रक्षा सचिवों के साथ भी बैठक करेंगी। इस कवायद का मकसद मंत्रालय से जुड़े फैसलों में तेजी लाना है। इस बीच, सोमवार को रक्षा मंत्री ने रक्षा ने अहमदाबाद स्थित गोल्डन कटार डिवीजन के कई इलाकों का दौरा किया। उन्होंने सामरिक रूप से अहम भारत-पाकिस्तान सीमा पर स्थित सर क्रीक इलाके का भी दौरा किया।


सोमवार को जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक रक्षामंत्री ने मंत्रालय संबंधी विषयों पर त्वरित निर्णय लेने के लिए रेाज बैठक का फैसला लिया है। उन्होंने अधिग्रहण प्रस्तावों की गति बढ़ाने पर विशेष जोर दिया है। साथ ही रक्षा अधिग्रहण परिषद (डीएसी) की बैठक करने का भी फैसला हुआ है। यह परिषद रक्षा खरीद से जुड़े सारे महत्वपूर्ण फैसले लेती है। अब इसकी बैठक अब हर पखवाड़े होगी। अब तक डीएसी की बैठक महीने में एक बार होती थी, जिससे दो बैठकों के बीच काफी अंतराल आ जाता था। रक्षा मंत्रालय के बयान के अनुसार, आधारभूत परियोजना के लिए भूमि संबंधी मामले को सुलझाना एवं सैनिकों एवं उनके परिवारों के कल्याण से जुड़े मामले मंत्रालय की अन्य प्राथमिकताओं में शामिल हैं।


सर क्रीक पहुंचीं रक्षा मंत्री
रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को अहमदाबाद स्थित गोल्डन कटार डिवीजन के कई इलाकों का दौरा किया। उन्होंने सामरिक रूप से अहम भारत-पाकिस्तान सीमा पर स्थित सर क्रीक इलाके का भी दौरा किया।
यहां पर गोल्डन कटार डिवीजन के जनरल ऑफिसर कमांडिंग ने रक्षा मंत्री को सर क्रीक में प्रभावी देखरेख को बनाए रखने के लिए ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य व सामरिक निहितार्थ के बारे में जानकारी दी। इससे पहले वे नलिया स्थित वायु सेना स्टेशन पहुंची। उनके साथ भारतीय सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत तथा दक्षिण
पश्चिम वायु कमान (स्वैक) के एयर ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ एयर मार्शल आरके धीर भी साथ थे।
इससे पूर्व अहमदाबाद पहुंचने पर दक्षिण कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल पी. एम. हारिज व गोल्डन कटार डिवीजन के जनरल ऑफिसर कमांडिंग मेजर जनरल अनिल पुरी ने उनकी अगवानी की। इस दौरे पर रक्षा मंत्री ने सेना, वायु सेना, नौ सेना तथा कोस्ट गार्ड के अधिकारियों-जवानों से मुलाकात की। रक्षा मंत्री का पद संभालने के कुछ ही दिनों में सीतारमण ने इस इलाके का दौरा किया।

Nirmala Sitharaman
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned