अपने एजेंडे से भटकी भाजपा! त्रिपुरा में बीफ पर बैन लगाने से किया इनकार

सुनील देवधर ने कहा है कि राज्य में हिंदू भी बीफ खाते हैं, इसलिए इसे बैन नहीं किया जा सकता।

By: Kapil Tiwari

Updated: 13 Mar 2018, 09:13 PM IST

अगरतला: अक्सर हिंदुत्व के एजेंडे के साथ-साथ बीफ के मुद्दे पर चुनाव लड़ने और चुनाव जीतने वाली भारतीय जनता पार्टी अपने एजेंडे से भटकती नजर आ रही है। दरअसल, हाल ही में त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी ने एतिहासिक जीत दर्ज की है। राज्य में सरकार बन जाने के बाद बीजेपी ने यहां पर बीफ पर बैन लगाने से इनकार कर दिया है। आपको बता दें कि नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में बीफ का सेवन अधिक मात्रा में किया जाता है।

त्रिपुरा में बैन नहीं होगा बीफ- सुनील देवधर
मंगलवार को त्रिपुरा बीजेपी के प्रभारी सुनील देवधर से जब इस बारे में पूछा गया कि क्या राज्य में बीजेपी की सरकार बीफ को बैन करेगी तो उन्होंने इस बात से इनकार कर दिया। राज्य में बीफ बैन को लेकर सवाल के जवाब में सुनील देवधर ने कहा, 'किसी राज्य में अगर बहुसंख्यक लोग नहीं चाहते हैं तो वहां की सरकार उस पर (बीफ पर) बैन नहीं लगाएगी, नॉर्थ ईस्ट के राज्यों में बहुसंख्यक लोग उसको खाते हैं तो वहां की सरकार उस पर प्रतिबंध नहीं लगाएगी'। सुनील देवधर ने आगे कहा कि यहां ज्यादातर मुसलमान और ईसाई हैं, कुछ हिन्दू भी ये मांस खाते हैं। ऐसे में मुझे ऐसा लगता है कि उस पर कोई बैन नहीं होना चाहिए इसलिए वहां बैन नहीं है।

सीएम योगी और पीएम मोदी ने भी की थी बीफ बैन की वकालत
आपको बता दें कि अक्सर बीफ के खिलाफ बीजेपी मोर्चा खोलते आई है। यूपी में योगी आदित्यनाथ और केंद्र पीएम मोदी ने जीत से पहले बीफ को बैन किए जाने की वकालत की थी। वहीं पिछले कुछ समय में बीफ को लेकर मारपीट और हत्या की घटनाओं में बीजेपी नेता घिरते आए हैं। ऐसे में त्रिपुरा बीजेपी की तरफ से दिया गया ये बयान काफी चौंकाने वाला है।

त्रिपुरा में 25 साल बाद सत्ता से बाहर हुई है लेफ्ट
आपको बता दें कि हाल ही में त्रिपुरा में 25 साल से चली आ रही लेफ्ट की सरकार को सत्ता से बाहर कर ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। यहां पर बिप्लब देब को राज्य का मुख्यमंत्री बनाया गया है। इससे पहले 25 सालों तक कम्युनिस्ट पार्टी के मानिक सरकार सत्ता पर काबिज थे। इन चुनावों में बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए सरकार बनाई है।

Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned