नुसरत जहां ने कोलकाता में की पूजा, देवबंद उलेमा ने धर्म पर उठाया सवाल

नुसरत जहां ने कोलकाता में की पूजा, देवबंद उलेमा ने धर्म पर उठाया सवाल

Dhiraj Kumar Sharma | Updated: 04 Jul 2019, 03:01:08 PM (IST) राजनीति

  • Nusrat Jahan Prayer in Kolkata, देवबंद उलेमा हुआ नाराज
  • नुसरत जहां के पूजा करने के बाद उलेमा ने धर्म को लेकर किया सवाल
  • पहले भी नुसरत के खिलाफ जारी हो चुका फतवा

नई दिल्ली। सांसद बनते ही नुसरत जहां ( TMC MP Nusrat Jahan ) लगातार सुर्खियां बंटोर रही हैं। एक बार फिर टीएमसी सांसद और बंगाली एक्ट्रेस नुसरत जहां चर्चा में हैं। दरअसल गुरुवार को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ( CM Mamata banerjee ) ने कोलकाता स्थित इस्कॉन मंदिर ( iscon temple ) में पूजा अर्चना की। खास बात यह है कि इस पूजा में टीएमसी सांसद नुसरत जहां भी उनके साथ मौजूद रहीं। पूजा के बाद नुसरत जहां को देवबंद उलेमा नाराज हो गया। हालांकि नुसरत ने खुद को लेकर चल रहे विवाद पर जवाब भी दिया।

आपको बता दें कि देश के कई हिस्सों में आज जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली गई। कोलकाता में भी ये यात्रा निकल रही है। आयोजकों ने नुसरत जहां को बतौर मुख्य अतिथि यहां आमंत्रित किया था। सीएम ममता बनर्जी के साथ टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने भी पूजा अर्चना की।

अध्यक्ष पद से इस्तीफे के बाद बोले राहुल गांधी, मैं दस गुना ज्यादा ताकत से लडूंगा

विवाद पर दिया जवाब
नुसरत जहां ने पूजा अर्चना के बाद खुद पर चल रहे विवाद को लेकर भी अपना पक्ष रखा। टीएमसी सांसद ने कहा कि ये बिना वजह का विवाद खड़ा किया गया है। मैं पैदाइशी मुसलमान हूं और इस्लाम में विश्वास रखती हूं। साथ ही नुसरत ने यह भी कहा कि मैं हर धर्म का सम्मान करती हूं। पूजा में शामिल होने को राजनीतिक रंग नहीं देना चाहिए। हमें प्यार से रहने की जरूरत है।

 

Nusrat

उलेमा ने नुसरत पर उठाया सवाल

उधर...नुसरत जहां के पूजा में शामिल होने के बाद देवबंध के उलेमा नाराज हो गए हैं। उन्होंने कहा है कि नुसरत जहां बताएं कि वे हिंदू हैं या फिर मुसलमान।

 

कांग्रेस महासचिव हरीश रावत ने किया इस्तीफे का ऐलान, राहुल से अध्यक्ष पद पर बने रहने की मांग

आपको बता दें कि पिछले दिनों शादी के बाद जब नुसरत जहां संसस पहुंचीं तो उनके सिंदूर और चूड़े को लेकर बड़ा विवाद खड़ा हो गया था। नुसरत ने इस दौरान सद्भावना का संदेश भी दिया, हालांकि कुछ लोगों को उनका ये संदेश पसंद नहीं आया था।

कुछ मौलवियों ने तो नुसरत जहां के खिलाफ फतवा जारी किया था। नुसरत जहां तब भी मुंह तोड़ जवाब दिया और कहा था कि वे हर धर्म का सम्मान करती हैं।

गुरुवार को भी नुसरत जहां ने अपने पति निखिल जैन के साथ भगवान जगन्नाथ की पूजा अर्चना की। इस पूजा के साथ ही उन्होंने उन लोगों को कड़ा संदेश भी दे डाला कि वे जिंदगी अपने मुताबिक जिएंगी ना कि किसी धर्म के रखवालों के कहने पर।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned