प्रियंका चतुर्वेदी के इस्तीफे पर सुरजेवाला ने जताया दुख, निश्चित तौर पर यह मेरी लीडरशिप की असफलता

प्रियंका चतुर्वेदी के इस्तीफे पर सुरजेवाला ने जताया दुख, निश्चित तौर पर यह मेरी लीडरशिप की असफलता

Kaushlendra Pathak | Publish: Apr, 19 2019 02:05:25 PM (IST) | Updated: Apr, 19 2019 05:49:14 PM (IST) राजनीति

  • शिवसेना में शामिल हुईं प्रिंयका चतुर्वेदी
  • उमर अब्दुल्ला ने कहा- 'कांग्रेस के लिए दुर्भाग्यपूर्ण'
  • पार्टी से नाराज होकर प्रियंका ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली। कांग्रेस (Congress) प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी (Priyanka Chaturvedi) ने शुक्रवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाते हुए प्रिंयका चतुर्वेदी ने कहा कि पार्टी के लिए मैंने गालियां और पत्थर खाए, बावजूद इसके नेताओं ने ही मुझे धमकियां दीं। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई, इसलिए मैैं पार्टी से इस्तीफा दे रही हूं। प्रियंका चतुर्वेदी के कांग्रेस छोड़ने पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने दुख जताया। सुरजेवाला ने मीडिया विंग से टॉम वडकन और प्रियंका के पार्टी छोड़ने को स्वयं का फेलियर बताया। सुरजेवाला ने कहा कि निश्चित तौर पर यह उनकी लीडरशिप की असफलता है।

 

प्रियंका के इस्तीफे पर सियासत

प्रियंका चतुर्वेदी के इस्तीफे पर अब सियासत शुरू हो गई है। कांग्रेस के सहयोगी दल ने ही पार्टी के खिलाफ हमला बोला है। नेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) के नेता उमर अब्दुल्ला (omar abdullah) ने साफ कहा है कि प्रियंका चतुर्वेदी का इस्तीफा कांग्रेस के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है।

पढ़ें- पार्टी नेताओं की बदसलूकी से नाराज प्रियंका चतुर्वेदी ने राहुल गांधी को भेजा इस्‍तीफा, दिलाई इस बात की याद

उमर अब्दुल्ला ने कांग्रेस पर साधा निशाना

कांग्रेस की आलोचना करते हुए उमर अब्दुल्ला ने कहा कि पार्टी से प्रियंका चतुर्वेदी का जाना नुकसानदायक और दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि प्रियंका चतुर्वेदी कांग्रेस की तेज तर्रार प्रवक्ता थीं। डिबेट में वह अपनी बातें बेबाक रखती थीं। उमर ने कहा कि वह कांग्रेस की एक मजबूत स्तंभ थी। कांग्रेस नेतृत्व के समर्थन में हमेशा खड़ी नजर आने वाली एक निडर एडवोकेट भी थीं। नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता ने ट्वीट करते हुए लिखा कि अगर वह निजी लाभ के लिए अलग होती तो शायद कोई नुकसान नहीं था, लेकिन उनका यह मानना कि पार्टी उनके साथ खड़ी नहीं हुई है, उनके साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई न करना बहुत ज्यादा दुर्भाग्यजनक है। उमर अब्दुल्ला भविष्य के लिए प्रिंयका चतुर्वेदी को शुभकामनाएं भी दी है।

पढ़ें- कांग्रेस से इस्‍तीफा देकर शिवसेना में शामिल हुईं प्रियंका चतुर्वेदी

गौरतलब है कि कांग्रेस से अलग होने के बाद प्रियंका चतुर्वेदी ने उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में शिवसेना का दामन थाम लिया है। अब देखना यह है कि प्रियंका चतुर्वेदी की राजनीति अब किस करवट बैठती है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned