Budget 2019: विपक्ष ने सीतारमण के बजट को नकारा, कहा- नई बोतल में पुरानी शराब

  • opposition reaction on budget 2019: बेकार है
  • Budget 2019 में कुछ भी नया नहीं: Adhir Ranjan Chowdhury
  • मोदी सरकार का बजट धन्ना सेठों का बजट: Mayawati

Shiwani Singh

July, 0507:35 PM

नई दिल्ली। मोदी सरकार 2.0 का बजट ( Bugdet 2019 ) शुक्रवार को संसद में पेश हो चुका है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ( Finance Minister Nirmala Sitharaman ) ने लोकसभा में अपना पहला बजट पेश किया। एक ओर जहां सरकार इस बजट को सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की तरह पेश कर रही है। वहीं, दूसरी तरफ विपक्षी पार्टियों ने प्रतिक्रिया ( opposition reaction on budget 2019 ) देते हुए बजट को पूरी तरह से नकार दिया है। कांग्रेस ने कहा कि इस बजट में कुछ नया नहीं। वहीं, बहुजन समाज पार्टी ( BSP ) ने इसे धन्ना सेठों का बजट बताया है।

यह भी पढ़ें-Budget 2019: PM मोदी बोले- सीतारमण ने पेश किया न्यू इंडिया के विकास का बजट

नई बोतल में पुरानी शराब की तरह 'बजट '

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ( adhir ranjan chowdhury ) ने आम बजट को नकारते हुए कहा कि इस बजट में कुछ भी नया नहीं है। इसमें केवल पुराने वादों की पुनरावृत्ति है।

उन्होंने कहा, 'सरकार हमेशा नए भारत के बारे में बात करती है, लेकिन बजट एक नई बोतल में पुरानी शराब की तरह है। इसमें कोई नई बात नहीं।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने बजट को लेकर तीखी प्रतिक्रिया ( opposition reaction on budget 2019 ) दी। उन्होंने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यह बजट धन्ना सेठों का बजट है।

माया ने बजट को लेकर लगातार ट्वीट करते हुए लिखा, 'सरकार की ओर से बजट में हर मामले में और हर तरीके से लोकलुभावन बनाने की पूरी कोशिश की गई है। अब वक्त ही बताएगा कि यह बजट जमीनी हकीकत में देश की आम जनता के लिए कितना लाभदायक सिद्ध होता है।'

वहीं, उन्होंने अपने एक ट्वीट में बजट को प्राइवेट सेक्टर को बढ़ावा देने वाला और बड़े-बड़े पूंजीपतियों व धन्नासेठों की मदद करने वाला बताया।

यह भी पढ़ें-Budget 2019: निर्मला सीतारमण ने पेश किया आम बजट, मौके को खास बनाने माता-पिता भी पहुंचे संसद

बजट नहीं कविता

राजनीतिक विशेषज्ञ योगेन्द्र यादव ने निर्मला सीतारमण के बजट को कविता बताया है। योगेंद्र यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, 'मैं बजट को लेकर हैरान हूं, ये कैसी बजट स्पीच है। अभी पूरी बजट स्पीच हाथ में नहीं आई, लेकिन बजट में कहीं इस बात का ज़िक्र नही की किस मद में कितना पैसा लगा है।'

वहीं, उन्होंने के. सुब्रमणयन के बही खाता वाले बयान पर तंज कसते हुए कहा, 'बजट में ना खाता न बही, जो निर्मला कहें वो सही।' यादव ने कहा कि ये जीरो बजट स्पीच है। देश के कई इलाके सूखाग्रस्त हैं। ऐसा लग रहा था कि वित्त मंत्री सूखे पर कुछ बोलेंगी लेकिन उन्होंने तो इसका ज़िक्र तक नहीं किया।

ज्योतिरादित्य सिंधिया का ट्वीट

बजट को लेकर कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर प्रतिक्रिया ( opposition reaction on budget 2019 ) दी। उन्होंने लिखा, 'जब विश्व भर में पेट्रोल और डीजल के दाम गिर रहे हैं तो उसका फायदा आम आदमी तक पहुंचाने के बजाय सरकार 1 रुपया प्रति लीटर का उत्पाद शुल्क (excise duty) और उपकार (cess) लगाने जा रही है | यह निंदनीय कदम एक आम और गरीब इंसान के पेट पर लात मारने के बराबर है।

पी चिदंबरम की प्रतिक्रिया

यूपीए सरकार में वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम ने भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा मोदी सरकार के बजट को खोखला बताया। उन्होंने कहा कि सरकार बजट में क्या कहना चाहती है कुछ समझ नहीं आ रहा। सीतारमण का बजट भाषण अस्‍पष्‍ट है। चिदंबरम ने पैन कार्ड के बिना सिर्फ आधार कार्ड के जरिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की सुविधा के ऐलान पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि मुझे समझ नहीं आ रहा कि यह क्या कॉमेडी हो रही है।

Prev Page 1 of 2 Next
Show More
Shivani Singh
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned