Kerala: पिनराई विजनय आज लगातार दूसरी बार लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ, हाईकोर्ट ने दी समारोह को मंजूरी

Kerala के इतिहास में पहली बार लगातार दूसरी बार कोई मुख्यमंत्री लेगा शपथ, हाई कोर्ट से मिली समारोह की मंजूरी

By: धीरज शर्मा

Published: 20 May 2021, 09:31 AM IST

नई दिल्ली। केरल ( Kerala ) की राजनीति में आज का दिन काफी अहम है। लगातार दूसरी बार पिनराई विजयन ( Pinarayi Vijayan ) बतौर मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। दरअसल केरल हाईकोर्ट ( Kerala High Court ) ने बुधवार को नवनिर्वाचित सरकार के फिजिकल शपथग्रहण समारोह ( Swearing Ceremony ) को मंजूरी दे दी। कोर्ट ने कहा, कोरोना महामारी के मद्देनजर मुख्यमंत्री पिनराई विजयन गुरुवार को तिरुवनंतपुरम के एक स्टेडियम में शपथ ले सकते हैं।

आपको बता दें कि पिनराई विजयन ने अपने कैबिनेट मंत्रियों का चुनाव भी कर लिया है। शपथ ग्रहण समारोह दोपहर तीन बजे बाद आयोजित किया जाएगा।

यह भी पढ़ेँः दक्षिण भारत के इस दिग्गज नेता की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में किया भर्ती

मंजूरी के लिए हाईकोर्ट ने दिया ये तर्क
केरल हाईकोर्ट डॉ केजी प्रिंस की याचिका पर सुनवाई कर रहा था। याचिकाकर्ता ने कोर्ट से 500 से अधिक लोगों की उपस्थिति में होने वाले शपथग्रहण पर चिंता जताते हुए कोर्ट से दखल देने की अपील की थी।

हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु में अधिक विधायक होने के बावजूद कम संख्या में लोगों की मौजूदगी में शपथग्रहण हुआ है। इसी तरह केरल में भी सरकार को कम लोगों की उपस्थिति में शपथ लेनी चाहिए।

विजयन सरकार 2.0
पिनराई विजयन (Pinarayi Vijayan) के साथ 21 कैबिनेट के सदस्य भी मंत्रीपद की शपथ लेंगे। पोर्टफोलियो आवंटन पर फैसला सीएम विजयन पर छोड़ दिया गया है।

बताया जा रहा है कि विजयन सरकार 2.o की यह कैबिनेट पूरी तरह नई होगी।

यह भी पढ़ेँः Post Office की ये स्कीम्स दे रही हैं FD से भी ज्यादा ब्याज, जानिए कैसे कर सकते हैं निवेश

आपको बता दें कि सत्तारूढ़ एलडीएफ ने 6 अप्रैल को हुए चुनाव में 140 में से 99 सीटों पर जीत हासिल की थी। केरल के राजनीतिक इतिहास में अब तक हर पांच साल में सरकार बदलने की हिस्ट्री रही है।
वहीं सीपीएम नेता और एलडीएफ के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने 2021 के विधानसभा चुनाव में नया इतिहास रच डाला है।
इसके साथ ही एलडीएफ की नई सरकार में बड़ा बदलाव करते हुए अब कैबिनेट में नए चेहरों को मौका देने का फैसला लिया गया है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned