अलगाववाद और आतंकवाद से मुक्ति मिलेगी, जानिए राष्ट्र के नाम पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

अलगाववाद और आतंकवाद से मुक्ति मिलेगी, जानिए राष्ट्र के नाम पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

Amit Kumar Bajpai | Publish: Aug, 08 2019 08:54:59 PM (IST) | Updated: Aug, 09 2019 07:34:04 AM (IST) राजनीति

  • PM Modi address to nation में धारा-370 पर बात
  • जम्मू-कश्मीर को लेकर पीएम मोदी ने की बात
  • घाटी के भविष्य को संवारने की योजना का खाका बताया

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से धारा-370 हटाए जाने के बाद बृहस्पतिवार को पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन ( pm modi Address to Nation ) किया। रात 8 बजे किए गए संबोधन में पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर के भूत, वर्तमान और भविष्य की तस्वीर पेश की। उन्होंने घाटी के लोगों की हौसलाफजाई की और बाकी राज्यों से इसका साथ देने की अपील की। जानिए पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन की 10 प्रमुख बातें।

1.पीएम मोदी ने कहा कि ईद का त्योहार नजदीक है। मेरी ओर से सभी को ईद की शुभकामनाएं। सरकार यह कोशिश कर रही है कि ईद के दौरान जम्मू-कश्मीर के लोगों को कोई परेशानी न होने पाए। ईद पर जम्म? कश्मीर ?? जाने वाले लोगों को सुरक्षा प्रदान की जाएगी।

2. अनुच्छेद 370 हटने के बाद सुरक्षा के लिहाज से जरूरी कदम उठाए जाने थे, उठाए गए हैं। वहां के लोगों की तकलीफ से हम अलग नहीं हैं। अनुच्छेद 370 से मुक्ति एक सच्चाई है। ऐहतियातन कुछ कदम उठाए गए हैं, इसका मुकाबला भी वहां के लोग ही कर रहे हैं।

राष्ट्र के नाम पीएम मोदी का संबोधन, हालात सुधरते ही जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलेगा

3. पीएम मोदी ने वादा कि कि वह भरोसा दिलाते हैं कि घाटी में हालात धीरे-धीरे सामान्य हो जाएंगे। लोगों की परेशानी कम होगी। पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद और अलगाववाद को बढ़ावा देने के विरोध में जम्मू-कश्मीर के ही देशभक्त लोग खड़े हैं। कुछ मुट्ठी भर लोग यहां के हालात बिगाड़ना चाहते हैं। उन्हें धैर्यपूर्वक जवाब भी वहां के ही हमारे भाई-बहन दे रहे हैं।

4. पीएम ने कहा कि जहां देश के अन्य प्रदेशों में अल्पसंख्यकों के हितों के संरक्षण के लिए माइनॉरिटी एक्ट है, जम्मू-कश्मीर में यह नहीं था। अन्य राज्यों में श्रमिकों के हितों की रक्षा के लिए मिनिमम वेजेज ऐक्ट (न्यूनतम भत्ता कानून) है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में यह सिर्फ कागजों पर ही था। पहले की सरकारें ये दावा नहीं कर पाती थीं कि उनका कानून जम्मू-कश्मीर में भी लागू होगा और उन कानूनों के लाभ से घाटी के लोग वंचित रह जाते थे। शिक्षा के अधिकार के लाभ से जम्मू-कश्मीर के बच्चे अब तक वंचित थे।

जानिए क्या है आर्टिकल 35A, क्यों मचा था बवाल

5. पीएम मोदी ने कानून को लेकर कहा कि इन्हें बनाते वक्त काफी बहस होती है और आवश्यकता को लेकर गंभीर पक्ष रखे जाते हैं। इस प्रक्रिया से गुजरकर जो कानून बनता है, वो पूरे देश के लोगों का भला करता है। लेकिन कोई कल्पना नहीं कर सकता कि संसद इतनी बड़ी संख्या में कानून बनाए और वो देश के एक हिस्से में लागू ही नहीं हों।

6. पीएम मोदी बोले कि इन दोनों अनुच्छेदों का देश के खिलाफ कुछ लोगों की भावनाएं भड़काने के लिए पाकिस्तान के द्वारा एक शस्त्र की तरह इस्तेमाल किया गया।

7. पीएम मोदी ने कहा कि हम सबने मिलकर एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। सरदार पटेल ने जो सपना देखा था उसे पूरा किया गया। हमने जम्मू-कश्मीर के प्रशासन में पारदर्शिता लाने का प्रयास किया है और इसी का नतीजा है कि आईआईटी, आईआईएम, एम्स समेत तमाम प्रोजेक्ट्स के काम में तेजी आई है।

महादेव के मुरीद मोदी ने किए सावन में संविधान संशोधन, देखें वीडियो

8. पीएम मोदी ने बॉलीवुड ही नहीं बल्कि दक्षिण भारतीय फिल्मकारों से भी यहां पर शूटिंग की अपील की। उन्होंने कहा कि पहले जम्मू-कश्मीर में फिल्मों की शूटिंग होती थी। मैं फिल्म निर्माताओं से आग्रह करता हूं कि यहां आकर शूटिंग करें।

9. प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सभी यही चाहते हैं कि आने वाले समय में जम्मू-कश्मीर विधानसभा के चुनाव हों। नई सरकार बने, मुख्यमंत्री बने। मैं भरोसा देता हूं कि आपको बहुत ईमानदारी के साथ, पूरे पारदर्शी वातावरण में अपना प्रतिनिधि चुनने का अवसर मिलेगा। जम्मू-कश्मीर में आगे भी जनप्रतिनिधि आपके बीच से ही चुने जाएंगे। विधायक भी आपके बीच से होगा और मुख्यमंत्री भी।

एक क्लिक में जानें तीन तलाक बिल के बारे में सबकुछ, देखें स्पेशल वीडियो

10. लद्दाख के बारे में बोलते हुए पीएम ने कहा कि केंद्रशासित प्रदेश होने की वजह से यहां के नौजवानों को बेहतरीन अवसर मिलेगा। यहां के इन्फ्रास्ट्रक्चर का विकास होगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned