मोदी कैबिनेट का वो चेहरा जिसके शपथ लेते ही तालियों से गूंज उठा पूरा कार्यक्रम स्थल

मोदी कैबिनेट का वो चेहरा जिसके शपथ लेते ही तालियों से गूंज उठा पूरा कार्यक्रम स्थल

Dhiraj Kumar Sharma | Publish: May, 31 2019 08:58:52 AM (IST) | Updated: May, 31 2019 12:42:44 PM (IST) राजनीति

  • प्रताप चंद्र सारंगी ने जब ली शपथ, बजीं जमकर तालियां
  • 'ओडिशा का मोदी' नाम से बुलाने लगे लोग
  • रिक्शा में घूमकर बीजेडी के अरबपति उम्मीदवार को चुनाव में चटाई धूल

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी ने देश के 16वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ लेते ही गुरुवार को इतिहास रच दिया। पहली बार कोई गैर कांग्रेस पीएम लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने में कामयाब रहा। मोदी के शपथ लेने के साथ उनकी कैबिनेट ने भी शपथ ली। वैसे तो 58 सांसद मोदी कैबिनेट का हिस्सा बनें, लेकिन इन सब एक चेहरा काफी खास रहा। जिसके शपथ लेते वक्त सबसे पूरा कार्यक्रम स्थल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। ये चेहरा था था ओडिशा के ही मोदी कहे जाने वाले प्रताप चंद्र सारंगी का। जी हां जैसे प्रताप चंद्र ने बतौर मंत्री पद की शपथ लेने मंच पर पहुंचे वहां मौजूद लोगों के चेहरे पर मुस्कान और हाथों में उत्साह का संचार आसानी से देखा जा सकता था।


कौन है प्रताप चंद्र सारंगी
प्रताप चंद्र सारंगी अपनी साधारण जीवनशैली के चलते लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हैं। सफेद कुर्ता और हाथ में झोला लेकर चलने वाले सारंगी पैदल ही लोगों से मिलने और उनके काम करने के लिए निकल पड़ते हैं। लोगों के साथ जमीन पर बैठकर उनकी बातें या समस्या सुननी हों या फिर अधिकारियों से काम कराने के लिए लगातार दफ्तरों चक्कर लगाना प्रताप चंद्र सारंगी जमीनी स्तर पर रहकर ही काम को अंजाम देते आए हैं। सारंगी ने शादी नहीं की और पिछले ही वर्ष इनके माता-पिता का भी देहांत हो गया। छोटे से घर में रहने वाले प्रताप चंद्र सारंगी साइकिल पर ही घूमते हैं। जो इनके सादगी भरे जीवन का अद्भुत उदाहरण है।

सारंगी ने किया पीएम मोदी का धन्यवाद

प्रताप चंद्र सारंगी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मंत्रिमंडल में शामिल करने के लिए धन्यवाद दिया है। सारंगी ने कहा कि पीएम मोदी ने मुझ पर भरोसा जताया जिसका मैं आभारी हूं। मेरे लिए राजनीति देश सेवा का जरिया है। हमारी पार्टी में राष्ट्र पहले, पार्टी दूसरे और खुद अंतिम नंबर पर आते हैं।

सुलगना डैश नाम के एक यूजर ने २४ मई को एक पोस्ट शेयर किया। जिसमें उन्होंने प्रताप सारंग की कुछ तस्वीरें शेयर की थी, जिसमें वो जमीन पर बैठकर अपने कागजात और सामान ठीक करते हुए नजर आ रहे थे। इस पोस्ट के बाद सारंगी लोगों में और भी लोकप्रिय हो गए।

भाजपा ने जताया भरोसा, दो बार जीता विधानसभा चुनाव
प्रताप के निराले अंदाज के चलते ही भारतीय जनता पार्टी ने 2004 में भी विधानसभा चुनाव के दौरान उन पर भरोसा जताया और सारंगी ने जीत कर इसे कायम रखा। इसके बाद दोबारा 2009 में भी सारंगी ने भाजपा के ही टिकट पर चुनाव लड़ा और लोगों के बीच अपनी अच्छी छवि को भुनाने में सफल रहे।

 

pratap


ओडिशा का मोदी कहने लगे लोग
सांरगी के काम करने का तरीका लोगों को काफी पसंद आया। यही वजह है कि लोकसभा चुनाव के दौरान ही लोग उन्हें ओडिशा का मोदी कहकर बुलाने लगे। बतौर विधायक भी सारंगी ने लोगों के बीच काम करने वाले नेता की छवि बनाई। उनकी जिंदगी और उनकी जीवनशैली की तुलना लोग पीएम मोदी से कर रहे हैं।

अरबपति उम्मीदवार को दी शिकस्त
ओडिशा के बालासोर से सांसद बने प्रताप चंद्र सारंगी का मुकाबला आसान नहीं था। उनके सामने बीजेडी के अरबपति उम्मीदवार रवींद्र कुमार जेना ने चुनावी मैदान संभाला था। जेना जहां महंगी और आलिशान गाड़ियों से चुनाव प्रचार के लिए निकलते थे, वहीं सारंगी की अपनी जीवनशैली के मुताबिक ऑटो रिक्शा में खुद के लिए प्रचार करते थे। यही नहीं सोशल मीडिया की बजाय सारंगी ने अपने कार्यकर्ताओं पर ज्यादा भरोसा किया और उनके जरिये ही प्रचार को प्राथमिकता दी। नतीजा अरबपति उम्मीदवार के आगे लोगों ने साधारण जीवनशैली वाले प्रत्याशी को जमकर वोट दिए और जीत का सहरा भी बांध दिया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned