करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदीः हरसिमरत

करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदीः हरसिमरत

Amit Kumar Bajpai | Publish: Oct, 12 2019 05:55:40 PM (IST) | Updated: Oct, 12 2019 09:09:03 PM (IST) राजनीति

  • आगामी 8 नवंबर को प्रधानमंत्री करेंगे औपचारिक शुभारंभ।
  • केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट कर दी जानकारी।
  • पूर्व पीएम मनमोहन सिंह भी जाएंगे पहले जत्थे में।

नई दिल्ली। काफी लंबे वक्त से होती आ रही चर्चाओं पर विराम लग गया है और यह तय हो गया है कि करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने शनिवार को ट्वीट कर यह आधिकारिक जानकारी दी और लिखा कि पीएम मोदी 8 नवंबर को उद्घाटन करेंगे।

बड़ी खबरः इसरो के मिशन मंगलयान ने हासिल की बड़ी सफलता, इसरो ने किया बड़ा खुलासा, कहा...

बठिंडा से शिरोमणि अकाली दल की सांसद और केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट में लिखा, "गुरु नानक देव जी के आशीर्वाद से सिख पंथ की अरदास कि श्री करतारपुर साहिब के 'खुले दर्शन दीदार' हों, आखिरकार हकीकत बनने जा रहे हैं।"

उन्होंने आगे लिखा, "आगामी 8 नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन कर इतिहास रचेंगे।"

हरसिमरत ने अपने ट्वीट में विपक्षी पार्टी कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए लिखा, "सदा गुरु साहब की आभारी रहूंगी कि उन्होंने मोदी जी को 72 साल पहले कांग्रेस द्वारा किए गए गलत वादे को सुधारने के लिए सक्षम बनाया और हमें गुरु के घर तक जोड़ने का मौका दिया।"

इस खोज ने कर दिया कमाल, न पड़ेगी चंद्रयान-2 जैसे मिशन की जरूरत और न होगी कोई परेशानी

इससे पहले पिछले सप्ताह कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि वह केवल करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने वाले पहले सर्वदलीय जत्थे का नेतृत्व करेंगे और वहां जाकर माथा टेकेंगे, ना कि पाकिस्तान जाएंगे।

वहीं, ऐसी कुछ रिपोर्टों जिसमें कहा गया है कि डॉ. मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान का निमंत्रण स्वीकार कर लिया है, के सवाल पर कैप्टन ने कहा था कि उन्हें ऐसा नहीं लगता कि डॉ. सिंह की ऐसी कोई योजना है।

उन्होंने कहा, "ऐसा कोई सवाल ही नहीं उठता है कि मैं जा रहा हूं (करतारपुर कॉरिडोर की ओपनिंग में पाकिस्तान) और मुझे लगता है कि डॉ. मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे।" इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि करतारपुर कॉरिडोर के रास्ते गुरुद्वारा जाना और पाकिस्तान जाना, दोनों ही बातों में बहुत अंतर है।

बड़ी खबरः इसरो चीफ के सामने इस दिग्गज का खुलासा, विक्रम से संपर्क करने में यह सिस्टम बना परेशानी

पंजाब के मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहाकार रवीन ठुकराल ने कहा कि डॉ. सिंह ने जत्थे में शामिल होने का कैप्टन अमरिंदर सिंह का निमंत्रण स्वीकार कर लिया था। यह जत्था गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के अवसर पर सीमा पर बने ऐतिहासिक गुरुद्वारे में सीएम के नेतृत्व में माथा टेकने जाएगा।

जहां तक पाकिस्तान जाने की बात है, मुख्यमंत्री यह स्पष्ट कर चुके हैं कि वह तब तक वहां नहीं जाएंगे जब तक पाकिस्तान सीमापार आतंक फैलाना समाप्त नहीं कर देता। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान द्वारा फैलाए जा रहे सीमापार आतंकवाद से पंजाब सबसे बुरी तरह प्रभावित हुआ है और वह इसके रुकने तक पाकिस्तान जाने की सोच भी नहीं सकते।

करतारपुर कॉरिडोर के बारे में सबकुछ, आस्था से विवाद तक का सफर

इससे पहले दिन में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस ऐतिहासिक अवसर पर राज्य सरकार द्वारा आयोजित किए जा रहे मुख्य कार्यक्रम में शामिल होने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को औपचारिक निमंत्रण पत्र सौंपा था।

अभी-अभीः विक्रम लैंडर से संपर्क से पहले चंद्रयान-2 ऑर्बिटर ने किया सबसे बड़ा काम

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री दोनों ने ही इस निमंत्रण को स्वीकार कर लिया था, जबकि पूर्व पीएम डॉ. सिंह ने इसे स्वीकार करते हुए कॉरिडोर के उद्घाटन मौके पर जत्थे के साथ करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने पर सहमति जताई थी।

सीएम ने कहा कि भारत अपनी तरफ से सभी श्रद्धालुओं की सुरक्षा को लेकर पूरी तैयारी कर चुका है। बता दें कि इस कॉरिडोर का उद्घाटन समारोह गुरु नानक देव की 550वीं जयंती से तीन दिन पूर्व आयोजित किया जाएगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned