राहुल गांधी के गले मिलने से आंख मारने तक, हर एक्शन पर पीएम मोदी ने दिया रिएक्शन

पीएम मोदी ने लोकसभा में राहुल गांधी के गले मिलने और आंख मारने पर जमकर निशाना साधा। पीएम ने अविश्वास प्रस्ताव पर भी विपक्ष का मजाक उड़ाया है।

By: Chandra Prakash

Published: 20 Jul 2018, 10:27 PM IST

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अविश्वास प्रस्ताव पर करीब 10 घंटे की बहस के बाद लोकसभा में विपक्ष पर जमकर शब्दबाण चलाएं। पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरूआत में ही कहा कि लोगों के मन में यह सवाल है कि आखिर अविश्वास प्रस्ताव लाया क्यों गया? न तो संख्या है, न सदन में बहुमत है। फिर भी सदन में इस प्रस्ताव को क्यों लाया गया। हम यहां इसलिए हैं क्योंकि देश की सवा सौ करोड़ जनता का आशीर्वाद है। ऐसे में देश की जनता पर अविश्वास न करें। विपक्ष इस अविश्वास प्रस्ताव के बहाने आपने अपने कुनबे को जमाने की कोशिश की है।

कुछ लोगों को कुर्सी पर पहुंचने की जल्दी: मोदी

पीएम मोदी ने इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष को निशाने पर लिया। उन्होंने राहुल गांधी के गले मिलने पर कहा कि कुछ लोगों को कुर्सी पर पहुंचने की बहुत जल्दीबाजी है। पीएम मोदी के इतना कहते ही सदन में मौजूद एनडीए सरकार के सदस्यों ने मेज थपथपाकर इसका समर्थन किया। प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि हम यहां इसलिए हैं क्योंकि सवा सौ करोड़ देशवासियों का हमें आर्शिवाद प्राप्त है। कुछ लोग कहते थे कि वे खड़े होंगे तो सामने मैं खड़ा नहीं हो पाऊंगा, लेकिन मैं खड़ा भी हूं और अपनी सरकार के चार साल के काम पर अड़ा भी हूं।

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी की 'हगप्लोमेसी': राजनाथ बोले ये 'चिपको आंदोलन', स्पीकर को भी नहीं आया पसंद

राहुल के आंख मारने पर भी किया तंज

राहुल गांधी के सदन के अंदर आंख मारने का भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जमकर मजाक उड़ाया। उन्होंने कहा कि आंखों का खेल आज सारा देश देख चुका है। नामदार की आंख से आंख नहीं मिला सकते हैं कामदार। इस दौरान पूरा सदन ठहाकों से गूंज रहा था।

राहुल ने पीएम मोदी को सदन में लगाया था गले

दरअसल सदन में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान अपने भाषण में राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। अपने 40 मिनट के भाषण में राहुल ने कहा कि मेरे मन में आपके लिए नफरत या द्वेषपूर्ण भावनाएं रत्ती भर भी नहीं हैं। आप मुझसे नफरत करते हैं, मैं शायद आपके लिए 'पप्पू' हूं। आप मेरे लिए अपशब्द का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन मैं आपसे प्यार करता हूं और आपका सम्मान करता हूं, क्योंकि मैं कांग्रेस हूं। इसके बाद राहुल गांधी सत्ताधारी पक्ष की ओर गए मोदी से गले मिले जिसे देख लोकसभा में सभी हैरान थे। अचानक हक्का-बक्का हो जाने के बाद मोदी ने तुरंत उनको वापस बुलाकर उनसे हाथ मिलाया। उन्होंने राहुल गांधी की पीठ थपथपाई और मुस्कराते हुए दोनों नेताओं ने बात की।

स्पीकर और गृहमंत्री ने जताया एतराज

राहुल गांधी का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गले मिलने पर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने विरोध किया। सुमित्रा महाजन ने कहा, 'मुझे भी यह पसंद नहीं है। एक शिष्टाचार होता है प्रधानमंत्री पद के लिए। सदन के भीतर सीट पर जब वह बैठे हैं तो वह नरेंद्र मोदी नहीं बल्कि भारत के प्रधानमंत्री हैं। वहीं गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कुछ लोगों ने सदन के भीतर 'चिपको आंदोलन' शुरू किया है।

Narendra Modi
Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned