प्रवीण तोगड़िया का मोदी पर निशाना, अयोध्या में बाबरी मस्जिद बनाने के लिए बने हैं प्रधानमंत्री?

प्रवीण तोगड़िया का मोदी पर निशाना, अयोध्या में बाबरी मस्जिद बनाने के लिए बने हैं प्रधानमंत्री?

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Apr, 17 2018 03:54:43 PM (IST) राजनीति

राम मंदिर निर्माण को लेकर उपवास कर रहे प्रवीण तोगड़िया पीएम पर तंज कसते हुए कहा कि लगता है अयोध्या में बाबरी मस्जिद बनाने के लिए प्रधानमंत्री बने हैं

नई दिल्ली। विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष पद से हटने के बाद प्रवीण तोगड़िया ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर अलख जगाना शुरू कर दिया है। इसी मांग को लेकर अहमदाबाद में तोगड़िया ने अनिश्चितकालीन अनशन शुरू कर दिया है। उपवास पर बैठे तोगड़िया ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि आपके पास जो सत्ता है वो हिंदुओं की लाशों से मिली है।

बाबरी मस्जिद बनाने के लिए बने हैं पीएम?
राम मंदिर निर्माण को लेकर उपवास कर रहे प्रवीण तोगड़िया पीएम पर तंज कसते हुए कहा कि लगता है आप अयोध्या में बाबरी मस्जिद बनाने के लिए प्रधानमंत्री बने हैं। उन्होंने आगे कहा कि आज भी गुजरात के 1200 से ज्यादा हिंदू उम्र कैद की सजा भुगत रहे हैं। सैकड़ों हिंदुओं की लाश और हजारों को कारावास क्या आपको सत्ता से शीर्ष पर भेजने के लिए थी। आज उनकी पत्नियां रो रही हैं।

राम मंदिर निर्माण के लिए कर रहे कानून की मांग
अयोध्या में राम मंदिर विवाद पर संसद में कानून बनाए जाने की मांग पर अड़िग तोगड़िया लंबे से समय बीजेपी व संघ से नाराज हैं। यहां तक की वह कई बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी सार्वजनिक रूप से आलोचना कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि विश्व हिंदू परिषद ने एकबार कहा था हम (संघ परिवार) संसद में बहुमत से आएंगे तो विधेयक लाकर राम मंदिर के निर्माण का काम शुरू करेंगे।

वीएचपी ने तोगड़िया को दिखाया बाहर का रास्ता
अपने बयानों की वजह सो तगड़िया कई बार बीजेपी और संघ के लिए मुश्किलें खड़ी कर चुकी हैं। यही कारण है कि वीएचपी अध्यक्ष पद के चुनाव की घोषणा होते यह तय हो गया था कि तोगड़िया की विदाई निश्चित है। बता दें कि वीएचपी की स्थापना 29 अगस्त 1964 को हुई थी। इसके बाद पहली बार परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए चुनाव कराया गया है। चुनाव में कुल 192 लोगों ने अपने मत का इस्तेमाल किया। इसमें से विष्णु सदाशिव कोकजे को 131 और तोगड़िया के नजदीकी राघव रेड्डी को 60 वोट पड़े। जिसके बाद कोकजे को वीएचपी का नया अध्यक्ष घोषित कर दिया गया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned