scriptPresident Election Know Which Party Support Draupadi Murmu Yashwant Sinha Who Created Suspense | Presidential Election: चुनाव से पहले द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा को अबतक किस दल का मिला समर्थन, जानिए किन दलों ने नहीं खोले पत्ते | Patrika News

Presidential Election: चुनाव से पहले द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा को अबतक किस दल का मिला समर्थन, जानिए किन दलों ने नहीं खोले पत्ते

देश के अगले राष्ट्रपति के लिए आगामी 18 जुलाई को चुनाव होना है। इससे पहले बीजेपी नेतृत्व वाले एनडीए की ओर से द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार के रूप में यशवंत सिन्हा चुनावी मैदान में हैं। दोनों ही उम्मीदवार अपने-अपने लिए राजनीतिक दलों से सपोर्ट मांग रहे हैं। कुछ दलों ने समर्थन दे दिया है जबकि कुछ ने अब तक पत्ते नहीं खोले।

नई दिल्ली

Published: June 28, 2022 04:28:34 pm

देश का अगला राष्ट्रपति कौन होगा इसका जवाब 21 जुलाई को मिल जाएगा। लेकिन इससे पहले राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सियासी पारा हाई है। दरअसल बीजेपी नेतृत्व वाले गठबंधन एनडीए की ओर से द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष के साझा उम्मीदवार को तौर पर यशवंत सिन्हा चुनावी मैदान में हैं। दोनों ही उम्मीद अपनी-अपनी दावेदारी मजबूत करने के लिए राजनीतिक दलों से सहयोग मांग रहे हैं। कुछ दलों की ओर से समर्थन देने का वादा किया जा चुका है तो कुछ दल अब भी सस्पेंस बनाए हुए हैं। एनडीए और विपक्ष दोनों ही इन राजनीतिक दलों के पत्ते खोलने का इंतजार कर रहे हैं।
President Election Know Which Party Support Draupadi Murmu Yashwant Sinha Who Created Suspense
President Election Know Which Party Support Draupadi Murmu Yashwant Sinha Who Created Suspense
देश के अलगे राष्ट्रपति के लिए 18 जुलाई को चुनाव होना है। इस पद के लिए द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा के अलावा 54 अन्य लोगों ने भी नामांकन किया है। हालांकि, पर्याप्त प्रस्तावक नहीं होने के कारण 54 अन्य उम्मीदवारों के नामांकन खारिज हो सकते हैं। ऐसे में मुख्य मुकाबला द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा के बीच ही है।

यह भी पढ़ें

Draupadi Murmu: क्लर्क से NDA की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार तक बनने का सफर, जानें कौन हैं द्रौपदी मुर्मू



इन दोनों ही उम्मीदवारों में अब तक पलड़ा तो द्रौपदी मुर्मू का ही भारी बताया जा रहा है। दोनों कैंडिडेट राजनीतिक दलों से समर्थन जुटा की कोशिश कर रहे हैं। बावजूद इसके कुछ दलों ने अब तक अपनी स्थिति साफ नहीं की है। आइए जानते हैं अब दोनों को किन राजनीतिक दलों का समर्थन मिल चुका और किन दलों ने सस्पेंस बनाए रखा है।
द्रौपदी मुर्मू को मिला इन दलों का समर्थन
एनडी की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने 24 जून को नामांकन भरा। उनके नामांकन में एनडीए ने अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया। इस दौरान पीएम मोदी, अमित शाह, जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह और बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों समेत कई दिग्गज नेता मौजूद रहे।

समर्थनः द्रौपदी मुर्मू को बीजेडी, वाईएसआर कांग्रेस, जेडीयू, एआईएडीएमके, लोक जन शक्ति पार्टी, अपना दल (सोनेलाल), निषाद पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अठावले), एनपीपी, एनपीएफ, एमएनएफ, एनडीपीपी, एसकेएम, एजीपी, पीएमके, एआईएनआर कांग्रेस, जननायक जनता पार्टी, यूडीपी, आईपीएफटी, यूपीपीएल जैसी पार्टियों ने समर्थन दे दिया है।
विपक्ष से भी समर्थन
खास बात यह है कि द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने में विपक्ष के दल भी आगे हैं। इनमें बीजेडी, वाईएसआर कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी प्रमुख रूप से शामिल हैं।

यशवंत सिन्हा को इन पार्टियों का सपोर्ट
यशवंत सिन्हा ने 27 जून को लाव लश्कर के साथ अपना नामांकन दाखिल किया। सिन्हा के नॉमिनेशन में भी विपक्ष ने अपनी ताकत दिखाने की कोशिश की। इस दौरान एनसीपी के शरद पवार, कांग्रेस के राहुल गांधी, सपा सुप्रीमो अखिलेष यादव, टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी समेत कई दिग्गज नेता मौजूद रहे रहे।

समर्थनः यशवंत को कांग्रेस, एनसीपी, टीएमसी, सीपीआई, सीपीआई (एम) समाजवादी पार्टी, रालोद, आरएसपी, टीआरएस, डीएमके, नेशनल कांफ्रेंस, भाकपा, आरजेडी जैसी पॉलिटिकल पार्टियों का सपोर्ट मिला है।
इन पार्टियों ने बना रखा है सस्पेंस
राष्ट्रपति चुनाव से पहले दोनों ही उम्मीदवारों को जिन राजनीतिक दलों के समर्थन का इंतजार है उनमें आम आदमी पार्टी, जिसकी पंजाब और दिल्ली में सरकार है। इनके 10 राज्यसभा सांसद भी हैं। अबतक अपने पत्ते नहीं खोले हैं।

इसके अलावा टीडीपी, झामुमो, शिरोमणि अकाली दल ने भी चुनाव में समर्थन को लेकर सस्पेंस बरकरार रखा है। इसके साथ ही शिवसेना में भी आंतरिक कलह की वजह से पार्टी की ओर से इस संबंध में कोई बयान नहीं आया है।

यह भी पढ़ें

Presidential Election: यशवंत सिन्हा ने भरा नामांकन, राहुल गांधी-शरद पवार समेत विपक्ष के कई बड़े नेता मौजूद

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

IND vs ZIM: शिखर धवन और शुभमन गिल की शानदार बल्लेबाजी, भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हरायाMaharashtra Suspected Boat: रायगढ़ में मिली संदिग्ध नाव और 3 AK-47 किसकी? देवेंद्र फडणवीस ने किया बड़ा खुलासाBihar News: राजधानी पटना में फिर गोलीबारी, लूटपाट का विरोध करने पर फौजी की गोली मारकर हत्यादिल्ली हाईकोर्ट ने फ्लाइट में कृपाण की अनुमति देने पर केंद्र और DGCA को जारी किया नोटिसSSC Scam case: पार्थ चटर्जी, अर्पिता मुखर्जी 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर भेजे गए, 31 अगस्त को अगली पेशीRohingya Row: अनुराग ठाकुर का AAP पर आरोप, राष्ट्र सुरक्षा से समझौता कर रही दिल्ली सरकारपश्चिम बंगाल में STF को मिली बड़ी सफलता, अल-कायदा से जुड़े दो आतंकवादियों को किया गिरफ्तारBJP में शामिल होंगे JDU के पूर्व अध्यक्ष RCP सिंह, नीतीश के बारे में कहा- 7 जन्म में नहीं बन सकेंगे प्रधानमंत्री
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.