राहुल गांधी बोले-संसद में 15 मिनट भी हमारा भाषण नहीं सुन सकते पीएम मोदी

prashant jha

Publish: Apr, 17 2018 03:27:35 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2018 03:31:16 PM (IST)

राजनीति
राहुल गांधी बोले-संसद में 15 मिनट भी हमारा भाषण नहीं सुन सकते पीएम मोदी

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का अच्छा दिन आम लोगों के लिए नहीं है बल्कि खास लोगों के लिए है ।

नई दिल्ली: देश में नोटबंदी के बाद एक बार फिर कैश की किल्लत है। एटीएम और बैंकों के बाहर कतारें दिख रही हैं। हालांकि केंद्र सरकार ने पैसे के संकट की खबर को खारिज कर दिया है। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मुद्दे को लेकर पीएम मोदी पर हमला बोला है। अपने अमेठी दौरे के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का अच्छा दिन आम लोगों के लिए नहीं है बल्कि खास लोगों के लिए है । मजदूरों और गरीबों के लिए अच्छे दिन नहीं आए हैं। राहुल गांधी ने कहा कि नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के अच्छे दिन आए हैं। पीएम मोदी ने 500-1000 तक के नोट गरीबों से छीनकर नीरव मोदी को दे दिए। आज उसपर चर्चा तक नहीं होती। राहुल गांधी मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि हमें संसद में बोलने नहीं दिया जाता है, अगर मैं 15 मिनट संसद में बोलूंगा तो प्रधानमंत्री वहां रुक नहीं पाएंगे।

बैंकिंग व्यवस्था लचर

राहुल गांधी ने देश में एटीएमों में कैश की किल्लत को लेकर मोदी सरकार की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया। राहुल गांधी ने कहा कि कमजोर बैंकिंग व्यवस्था के कारण एटीएम पैसों की कमी से जुझ रहा है।

राज्यों के ATM में पैसे की भारी किल्लत
देश के कई राज्यों में पिछले कुछ दिनों से बैंकों और एटीएम में लोगों को कैश नहीं मिल पा रहा है, जिसकी वजह से एक बार फिर नोटबंदी जैसा माहौल बना है। हालांकि केंद्र सरकार और आरबीआई ने ऐसी स्थिति के होने से इनकार किया है। केंद्रीय वित्ती मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि देश में पैसे की कोई कमी नहीं है। जेटली ने ट्वीट कर कहा कि कुछ क्षेत्रों में मांग बढ़ने से किल्लत बढ़ गई है। वहां भी व्यवस्था पूरी कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि बैंकों में पर्याप्त मात्रा में धन है। रिजर्व बैंक के सूत्रों का कहना है कि अब अर्थव्यवस्था में नकदी की हालत नोटबंदी के पहले वाले दौर से भी बेहतर है, ऐसे में इस संकट की वजह दूसरी है।

Ad Block is Banned