भारत बंद: राहुल गांधी ने बापू की समाधि पर चढ़ाया कैलास मानसरोवर से लाया जल

भारत बंद: राहुल गांधी ने बापू की समाधि पर चढ़ाया कैलास मानसरोवर से लाया जल

Dhirendra Kumar Mishra | Publish: Sep, 10 2018 10:39:20 AM (IST) राजनीति

महात्‍मा गांधी की समाधि पर जल चढ़ाकर राहुल गांधी ने नई परंपरा की शुरुआत की।

नई दिल्ली। तेल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस के भारत बंद के दौरान पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजघाट पर जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को अपना श्रद्धासुमन अर्पित किया। कैलास मानसरोवर यात्रा से लौटे राहुल गांधी 20 विपक्षी दलों के नेताओं के साथ राजघाट पहुंचे। वहां पर उन्‍होंने बापू को श्रद्धांजलि दी। राहुल अपने साथ कैलास मानसरोवर झील से लाए जल जेब से निकालकर बापू की समाधि पर चढ़ाया। ऐसा कर उन्‍होंने एक नई परंपरा की शुरुआत कर दी है। अभी तक परंपरा यही रही है कि जो भी राजनेता राजघाट पहुंचते हैं वो बापू को श्रद्धांजलि देने के लिए केवल पुष्‍प अर्पित करते हैं।

20 दलों के नेताओं के साथ पहुंचे राजघाट
राजघाट पर राहुल गांधी के साथ महागठबंधन के 20 दलों के नेता, जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक गहलोत भी साथ थे। राहुल ने राजघाट पर सबसे पहले बापू की समाधि पर फूल चढ़ाया। फिर अपने दाहिने जेब से एक प्लास्टिकनुमा बोतल निकाला और उसमें रखे जल को समाधि पर चढ़ाया। जल चढ़ाने के बाद राहुल ने बापू को नमन किया और फिर नीचे रखे रखे गए बोतल को अपने हाथ में उठाकर चल दिए।

पैदल मार्च में हुए शामिल
इसके बाद वो सभी दलों के नेताओं के साथ बंद के खिलाफ मार्च में भी शामिल हुए। पैदल मार्च की शुरआत उन्‍होंने राजघाट से रामलीला मैदान तक की। राहुल के साथ 20 विपक्षी दलों के नेताओं ने भी इस मार्च में हिस्सा लिया। बता दें कि देश में पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों पर कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर हमले कर रही है। इस अवसर पर कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि मोदी सरकार की नीतियों की वजह से जनता में हाहाकार की स्थिति है। उन्‍होंने बताया कि पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान पर है। इसके बावजूद मोदी सरकार बेपरवाह बनी हुई है। कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि जनहित में हमारी लड़ाई जारी रहेगी और मोदी सरकार को सत्ता से बाहर करने के बाद ही दम लेगी।

Ad Block is Banned