एनडीए में फूट के संकेत, भाजपा के महाभोज आयोजन में RLSP ने जाने से किया इनकार

भाजपा के महाभोज में एनडीए के सहयोगी दलों से इन बड़े नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है। नेताओं की 1000 के पार जा सकती है।

By: Kapil Tiwari

Published: 07 Jun 2018, 04:33 PM IST

पटना। राजनीति में हाल ही के घटनाक्रमों को देखते हुए गुरुवार को एनडीए में एक बड़ा मंथन होने वाला है। दरअसल, पिछले कुछ उपचुनावों में भाजपा की हार से एनडीए खासा परेशान है, इसलिए गुरुवार को एनडीए के सभी सहयोगी दलों के इकट्टा करने के लिए बिहार की राजधानी पटना में भाजपा ने एक महाभोज रखा है। इस महाभोज में एनडीए के सभी सहयोगी संगठनों को न्योता दिया गया है, लेकिन इस महाभोज से पहले ही एनडीए में फूट पड़ती हुई नजर आ रही है।

उपेंद्र कुशवाह ने भाजपा के महाभोज में जाने से किया इनकार
दरअसल, खबर है कि भाजपा के इस आयोजन में आरएलएसपी शामिल नहीं होगी। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाह ने महाभोज से पहले ये साफ कर दिया है कि वो इस आयोजन में शामिल नहीं होंगे। ये भाजपा के लिए चिंता बढ़ाने वाली बात है, क्योंकि सिर्फ बिहार ही नहीं बल्कि पूरे देश से एनडीए के सहयोगी दल आज इस महाभोज में शामिल हो रहे हैं।

हमारा मतलब केंद्र की लीडरशिप से है- उपेंद्र कुशवाह
पिछले कुछ उपचुनावों में भाजपा की हार के बाद एनडीए में सीटों को लेकर घमासान शुरू हो चुका है। बिहार में इस खींचतान को रोकने के लिए गुरुवार को एनडीए के साथियों के लिए बीजेपी की तरफ से महाभोज रखा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उपेंद्र कुशवाहा का कहना है कि ये एनडीए की मीटिंग नहीं है, इसमें अधिकतर जिला स्तर के पदाधिकारी ही शामिल होंगे और राज्य की ही लीडरशिप शामिल होगी। उनका कहना है कि उनकी स्टेट लीडरशिप नहीं बल्कि केंद्रीय लीडरशिप से बातचीत है। वह बिहार के प्रेसिडेंट से बात नहीं करते हैं।

1000 नेता होंगे शामिल
उपेंद्र कुशवाहा ने की मांग है कि अगर एनडीए की बैठक बुलाई जाएगी तो वो जरूर जाएंगे। उनका कहना है कि अगर पीएम मोदी और अमित शाह बैठक बुलाएंगे तो हम शामिल होंगे। आपको बता दें कि भाजपा की आयोजन में बिहार के सीएम नीतीश कुमार शामिल होंगे। नीतीश कुमार के अलावा एनडीए के सहयोगियों में से 1000 नेता शामिल होंगे।

इन बड़े नेताओं के शामिल होने की है उम्मीद
आपको बता दें कि बिहार में बीजेपी-जेडीयू का गठबंधन होने के बाद ये पहला मौका है, जब एनडीए के नेताओं की बैठक हो रही है। इसका मुख्य मकसद आपसी एकजुटता दिखाना है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान समेत बीजेपी के भूपेंद्र यादव, डिप्टी सीएम सुशील मोदी, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय, अरुण कुमार समेत सभी सांसद, विधायक, विधान पार्षद, प्रदेश पदाधिकारी और सभी घटक दलों के जिलाध्यक्ष महाभोज में शामिल हो सकते हैं।

आपको बता दें कि पिछले आठ साल के बाद इतने बड़े पैमाने पर एनडीए नेताओं का जमावड़ा बिहार में लगेगा। पटना के ज्ञान भवन में शाम सात बजे से कार्यक्रम शुरू होगा। एनडीए के घटक दलों के नेताओं का संबोधन होगा और उसके बाद लजीज व्यंजनों वाला डिनर।

Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned