संजय राउत ने बताया शरद पवार ने शिवसेना को मीटिंग में क्यों नहीं बुलाया

शरद पवार Sharad Pawar की दिल्ली में गैर-कांग्रेसी, गैर-भाजपा दलों के नेताओं के साथ मुलाकात होगी।
शरद पवार आज शाम को टीएमसी, आम आदमी पार्टी, आरजेडी समेत कई पार्टियों के नेताओं से मुलाकात करेंगे।

By: विकास गुप्ता

Updated: 22 Jun 2021, 01:45 PM IST

नई दिल्ली । सियासत के गलियारों में सरगर्मी तेज हो गई है, अब शरद पवार Sharad Pawar एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। शरद पवार ने दिल्ली में गैर-कांग्रेसी और गैर-भाजपा दलों की मीटिंग बुलाई हैं। इस मीटिंग में टीएमसी, आप, आरजेडी के अलावा अन्य गैर-कांग्रेसी, गैर-भाजपा दलों के नेता शामिल होंगे। लेकिन इस मीटिंग में शरद पवार ने शिवसेना को नहीं बुलाया है। जबकि एनसीपी और शिवसेना महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार चला रहे हैं।

संजय रावत ने कहीं ये बात-
जब शिवसेना के नेता संजय राउत से मीटिंग में न बुलाए जाने के बारे में पूछा गया तो रावत ने खुलकर कुछ भी नहीं कहा, लेकिन कई और दूसरे दलों को भी शामिल न होने की बात कही। संजय राउत ने कहा, 'शरद पवार आज राष्ट्र मंच के नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं। वह बड़े नेता है और बहुत से लोग उन्हें राजनीति और अर्थव्यवस्था समेत कई मुद्दों पर सलाह देते रहते हैं।' मुझे नहीं लगता कि यह विपक्ष के नेताओं का जुटान है क्योंकि इसमें शिवसेना, समाजवादी पार्टी, बीएसपी और चंद्रबाबू नायडू को भी शामिल नहीं किया गया है।

रावत ने कहा कि यह विपक्ष को एक साथ लाने के लिए पहला प्रयास है। मैं यह नहीं कहूंगा कि यह विपक्षी नेताओं की मीटिंग है। इसमें एसपी, बीएसपी, वाईएसआर कांग्रेस, टीडीपी और टीआरएस को भी शामिल नहीं किया गया है। शरद पवार आज शाम को टीएमसी, आम आदमी पार्टी, आरजेडी समेत कई पार्टियों के नेताओं से मुलाकात करेंगे। इस मीटिंग का एजेंडा क्या होगा ये अभी अभी साफ नहीं है, लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि शरद पवार २०२४ के आम चुनावों के लिए राजनीतिक संभावनाओं को टटोलने की कोशिश कर रहे हैं।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned