सोनभद्र नरसंहार पर बोलीं ममता बनर्जी, यूपी में कानून व्यवस्था चौपट

सोनभद्र नरसंहार पर बोलीं ममता बनर्जी, यूपी में कानून व्यवस्था चौपट

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Jul, 20 2019 10:46:53 PM (IST) राजनीति

  • Sonbhadra Massacre पर राजनीति जारी
  • Mamata Banerjee का योगी सरकार पर हमला
  • Priyanka Gandhi के सोनभद्र दौरे का किया समर्थन

नई दिल्ली। सोनभद्र नरसंहार ( Sonbhadra Massacre ) को लेकर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बीजेपी सरकार पर हमला बोला है। Mamata Banerjee ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था बहुत खराब हो चुकी है।

बंगाल में होने वाले सांप्रदायिक दंगे के लिए भी ममता ने बीजेपी को गुनाहगार बताया है।

'हिंसा वाले इलाके में जाता BJP प्रतिनिधिमंडल'

टीएमसी मुखिया ने कहा कि पश्चिम बंगाल में होने वाली हिंसा के पीछे बीजेपी वालों का हाथ होता है। जिस भी जगह सांप्रदायिक दंगे होते हैं, बीजेपी अपना प्रतिनिधिमंडल भेजती है।

'यूपी में 11 सौ से अधिक एनकाउंटर'

योगी सरकार पर हमला बोलते हुए ममता ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बहुत खराब हो चुकी है। वहां एनकाउंटर में 1,100 से अधिक लोगों को मारा गया है। लोगों की लिंचिंग की जा रही है। इन मुद्दों पर गौर किया जाना चाहिए।

पटना: विमान के टॉयलेट में सिगरेट पी रहा था यात्री, पुलिस ने पूछा- जलाया कैसे

Sonbhadra Massacre

प्रियंका गांधी ने क्या गलत किया: ममता

ममता बनर्जी ने कहा कि मेरा मानना है कि नियमों का पालन किया जाना चाहिए, जो प्रियंका गांधी वाड्रा ने किया वो गलत नहीं था। वे सिर्फ पीड़ितों से मिलना चाहती थीं लेकिन प्रशासन उनको रोक रहा था।

TMC नेताओं को एंट्री नहीं

सोनभद्र में टीएमसी नेताओं की एंट्री नहीं मिलने पर ममता ने कहा कि बंगाल में जब हम बीजेपी नेताओं को रोकते हैं, तो वे लोग नहीं मानते हैं। बता दें कि टीएमसी प्रतिनिधिमंडल को सोनभद्र हिंसा पीड़ितों से मुलाकात करने से रोक लिया गया।

शीला दीक्षित की कार में लगा था टाइम बम, मौत के मुंह से खींच ले गया ड्राइवर

tmc

धरने पर बैठे टीएमसी नेता

टीएमसी के सांसद डेरेक ओ ब्रयन, सुनील मंडल, अबीरंजन बिस्वास शनिवार को सोनभद्र के पीड़ितों से मिलने जा रहे थे। तभी वाराणसी में ही इन नेताओं को रोक लिया। टीएमसी के नेताओं को एयरपोर्ट के एप्रन में ही हिरासत में ले लिया गया जिसके बाद से तीनों नेता एयरपोर्ट पर ही धरने पर बैठ गए।

क्या है मामला

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के मूर्तिया गांव में 17 जुलाई को मौत का तांडव हुआ। जमीनी रंजिश को लेकर हुए आपसी विवाद में 10 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned