सोनिया गांधी की सात राज्यों के CM के साथ बैठकः NEET-JEE परीक्षा रोकने की उठी मांग, GST के बहाने मोदी सरकार पर हमला

  • Congress की अंतरिम अध्यक्ष Sonia Gandhi की सात राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा बुलाई गैर NDA शासित राज्यों के CM की बैठक
  • NEET-JEE और GST मुआवजे को मुख्यमंत्रियों ने रखे अपने विचार
  • Mamata Banerjee ने कहा- सभी सीएम मिलकर जाएं SC और परीक्षा स्थगित करने की करें मांग

By: धीरज शर्मा

Updated: 26 Aug 2020, 07:37 PM IST

नई दिल्ली। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ( Sonia Gandhi ) ने केंद्र सरकार पर राज्यों के बकाया जीएसटी और NEET-JEE परीक्षा पर एक बड़ी बैठक बुलाई। बैठक में कांग्रेस शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के अलावा कांग्रेस समर्थित सरकारों के मुख्यमंत्री और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी मौजूद रहीं। ममता बनर्जी ने कहा कि सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों को मिलकर सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए और परीक्षा स्थगित करने की मांग करनी चाहिए।

वहीं सोनिया गांधी ने जीएसटी के मुद्दे को लेकर कहा कि 11 अगस्त को वित्त की स्थायी समिति की बैठक में वित्त सचिव ने कहा कि केंद्र चालू वर्ष के लिए 14% की जीएसटी क्षतिपूर्ति का भुगतान करने की स्थिति में नहीं है। यह इंकार मोदी सरकार की ओर से विश्वासघात से कम नहीं है।

जेईई और नीट एग्जाम को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का बड़ा बयान, केंद्र सरकार से की ये मांग

पीएम मोदी ने गुजरात में मोढ़ेरा के सूर्य मंदिर का साझा किया वीडियो, जानें क्या बताई वजह

गैर एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ हुई मीटिंग में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ 7 विपक्षी राज्यों के सीएम के बीच परीक्षा का मुद्दा उठा। सभी सीएम ने केंद्र सरकार से परीक्षा की तारीख को आगे बढ़ाने का आग्रह किया है।

दरअसल 1 से 6 सितंबर को आयोजित होने जा रही जेईई मेंस (JEE Main) और 13 सितंबर को आयोजित की जाने वाली नीट (NEET) परीक्षा को स्थगित करने की मांग की जा रही है। इस एग्जाम को सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दे दी है। वहीं कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने इस परीक्षा को स्थगित करने की मांग की है।

बैठक में इन सीएम ने लिया हिस्सा
आपको बता दें कि बैठक में राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश सिंह बघेल, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह, पुडुचेरी के सीएम नारायणसामी, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हिस्सा ले रहे हैं।

इस बैठक से पहले ही कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक बयान जारी किया। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति ( NEP ) पर चिंता जाहिर की। सोनिया गांधी ने कहा कि, 'राष्ट्रीय शिक्षा नीति संबंधी घोषणाओं से हम चिंतित हैं क्योंकि यह वाकई बड़ा झटका है। विद्यार्थियों और परीक्षाओं से संबंधित समस्याओं पर भी बहुत लापरवाही भरा रवैया सामने आ रहा है।

आपको बता दें कि 27 अगस्त को जीएसटी काउंसिल की अहम बैठक होने जा रही है। यही वजह है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने एक दिन पहले ही गैर एनडीए राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की। जीएसटी बैठक में भी मुख्यमंत्रियों की भागीदारी होगी। राज्यों के वित्त मंत्री तो जीएसटी काउंसिल के सदस्य ही हैं।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned