सोमवार को दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र, केजरीवाल पर हमले समेत इन मुद्दों पर होगी चर्चा

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता करते हुए यह घोषणा की है कि सोमवार को दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया है।

By: Anil Kumar

Published: 22 Nov 2018, 07:42 PM IST

नई दिल्ली। दिल्ली में एक बार फिर से केंद्र सरकार और केजरीवाल सरकार के बीच टकराव बढ़न के आसार हैं। दरअसल दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता करते हुए यह घोषणा की है कि सोमवार को दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया है। इस सत्र में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर सचिवालय के अंदर मिर्ची पाउडर से अटैक का मुद्दा शामिल है। इसके अलावा दिल्ली के 30 लाख मतदाताओं के नाम को काटा गया है, जिसमें चुनाव आयोग एवं भाजपा की भागीदारी पर भी चर्चा की जाएगी।

मंगलवार को केजरीवाल पर किया गया था अटैक

आपको बता दें कि मंगलवार को दिल्ली के सचिवालय के अंदर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के चेहरे पर एक शख्स ने मिर्ची पाउडर फेंक दी थी। इस दौरान उनका चश्मा गिरकर टूट गया था। हालांकि बाद में हमलावर को पकड़ लिया गया था। हिरासत में हमलावर ने बताया था कि उसका नाम अनिल कुमार है और वह दिल्ल का ही रहने वाला है। अनिल ने बताया था कि वह केजरीवाल के वादाखिलाफी से नाराज थे। इसलिए उनपर हमला किया। हालांकि इस घटना के बाद सियासी सरगर्मी तेज हो गई। आम आदमी पार्टी ने जांच से पहले ही भाजपा पर आरोप मढ़ दिए। आम आदमी पार्टी के नेताओं का कहना था कि अनिल ने भाजपा के इशारों पर ही सीएम केजरीवाल पर हमला किया। भाजपा के राज में जब खुद मुख्यमंत्री ही सुरक्षित नहीं है तो फिर आम नागरिक कैसे सुरक्षित हो सकता है। इसके जवाब में भाजपा ने कहा कि इस हमले को केजरीवाल ने खुद ही प्लान करके किया है। ताकि आम नागरिकों की सहानुभूति बटौर सके। इसके अलावे आम आदमी पार्टी मतदाताओं के नाम कटने के लिए भाजपा को जिम्मेदार मानती है। आम आदमी पार्टी ने इससे पहले कहा है कि चुनाव आयोग ने भाजपा के इशारे पर मतदाताओं के नाम काटे हैं।

Arvind Kejriwal BJP
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned