सुब्रमण्यम स्वामी का बड़ा आरोप, कोकीन लेने वाले राहुल गांधी डोप टेस्ट में फेल हो जाएंगे

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने केन्द्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के का समर्थन किया है। स्वामी ने कहा कि हरसिमरत कौर जिसके बारे में कह रही हैं वो राहुल गांधी हैं।

 

By: Prashant Jha

Published: 05 Jul 2018, 09:11 PM IST

नई दिल्ली: पंजाब में सरकारी कर्मचारियों और पुलिसकर्मियों के लिए डोप टेस्ट अनिवार्य करने के फैसले पर राजनीति तेज हो गई है। भाजपा ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है। भाजपा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर ड्रग्स लेने का आरोप लगाया है। स्वामी ने कहा कि राहुल गांधी कोकिन लेते हैं और अगर उन्होंने डोप टेस्ट करवाया जाता है तो वे फेल हो जाएंगे। सुब्रह्मण्यम स्वामी ने केन्द्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के का समर्थन किया है। स्वामी ने कहा कि हरसिमरत कौर जिसके बारे में कह रही हैं वो राहुल गांधी हैं। मैं उनको इस बयान के लिए बधाई देता हूं, और वह पूरी तरह से सही बोल रही है। मैं जानता हूं कि अगर डोप टेस्ट हुआ तो राहुल गांधी निश्चित रूप से फेल हो जाएंगे। दरअसल हरसिमरत कौर ने कहा था कि पहले वो लोग डोप टेस्ट करवाएं जो 70 फीसदी लोगों को पंजाबी नशेड़ी कहते हैं। कौर ने नाम लिए बगैर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला ।

 

कैप्टन अमरिंदर का हो डोप टेस्ट

गौरतलब है कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आदेश दिया है कि सरकारी कर्माचारी, अधिकारियों और पुलिसवालों की डोप टेस्ट होनी चाहिए। इस पर आम आदमी पार्टी ने भी मुख्यमंत्री की डोप टेस्ट कराने की मांग की है। आप के विधायक अमन अरोड़ा ने मोहाली के एक सरकारी अस्पताल में मादक पदार्थ सेवन का परीक्षण (डोप टेस्ट) कराया। टेस्ट कराने के बाद अमन अरोड़ा ने मांगी की सीएम अपना और अपने कैबिनेट सदस्यों व सत्तारूढ़ कांग्रेस विधायकों का कराएं। उन्होंने कहा कि मैं पंचायत सदस्यों से लेकर मुख्यमंत्री तक, सभी से डोप टेस्ट से गुजरने की अपील करता हूं। डोप टेस्ट कराने के बाद अरोड़ा ने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्य की बात है कि निर्वाचित प्रतिनिधियों को डोप टेस्ट जैसी नैतिक चुनौतियों से गुजरना पड़ा है। उन्होंने सीधे-सीधे आरोप लगाते हुए कहा है कि मादक पदार्थ माफिया व पुलिस अधिकारियों व राजनेताओं का बड़ा गठजोड़ है।

ड्रग्स तस्करों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई

गौरतलब है कि पंजाब में नशे की तस्करी पर लगाम लगाने के लिए राज्य सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने ड्रग तस्करों को फांसी की सजा देने का प्रस्ताव तैयार किया है। सरकार ने प्रस्ताव की मंजूरी के लिए केंद्र को भेजा है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस पर मुहर लगी।

Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned