महिला टाउन हॉल के जरिए राहुल को जवाब देंगी सुषमा, एक लाख महिलाओं से करेंगी संवाद

Mohit sharma

Publish: Oct, 12 2017 01:20:50 PM (IST) | Updated: Oct, 12 2017 01:24:55 PM (IST)

राजनीति
महिला टाउन हॉल के जरिए राहुल को जवाब देंगी सुषमा, एक लाख महिलाओं से करेंगी संवाद

शनिवार को अहमदाबाद में उनका महिला टाउनहॉल कार्यक्रम के जरिए एक लाख महिलाओं से संवाद का कार्यक्रम है।

नई दिल्ली। गुजरात चुनाव को ले कर भाजपा अपनी ओर से कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। महिलाओं की उपेक्षा का राहुल गांधी के आरोप का करारा जवाब देने के लिए अब पार्टी की ओऱ से इसकी सबसे बड़ी महिला नेता सुष्मा स्वराज मोर्चा संभालेंगीं। शनिवार को अहमदाबाद में उनका महिला टाउन हॉल कार्यक्रम के जरिए एक लाख महिलाओं से संवाद का कार्यक्रम है। इसके लिए राज्य भर की औरतों को सोशल मीडिया के जरिए भी जोड़ा जा रहा है। भाजपा के वरिष्ठ नेता बताते हैं कि यह कार्यक्रम तो काफी पहले से तय है लेकिन अब इसमें वे ना सिर्फ केंद्र और सरकार की ओर से महिलाओं के हित के लिए उठाए गए कदमों के बारे में बताएंगी, बल्कि विपक्ष के हमलों का करारा जवाब भी देंगी। सुष्मा स्वराज ना सिर्फ भाजपा की सबसे कद्दावर महिला नेता हैं, बल्कि भाषण में भी वे विरोधियों के छक्के छुड़ाने में माहिर हैं।

 

ऐसे की है तैयारी

पार्टी ने अहमदाबाद में शनिवार को महिला टाउन हॉल कार्यक्रम के लिए राज्य भर में अभियान चलाया हुआ है। इसके तहत महिलाओं को व्हॉट्सऐप, फेसबुक, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए सवाल पूछने को कहा जा रहा है। इसी तरह 7878182182 पर मिस्ड कॉल देने या वेबसाइट के जरिए रजिस्टर करने का विकल्प भी दिया गया है। मुख्य कार्यक्रम में शामिल होने वाली महिलाओं के साथ ही राज्य के विभिन्न इलाकों में महिलाओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भी जोड़ा जाएगा। पिछले महीने इसी तर्ज पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने युवा टाउन हॉल किया था।

 

 

मॉडल महिला नेता के तौर पर कर रहे पेश

राज्य में इस कार्यक्रम के पहले हाल के संयुक्त राष्ट्र के उनके भाषण की याद दिलाई जा रही है, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान को धूल चटाई थी। इसी तरह विदेशों में फंसे भारतीयों को स्वदेश वापस लाने और मानवीय दृष्टिकोण रखने की उनकी छवि को भी भुनाने की कोशिश की जा रही है।

 

केंद्र और राज्य की योजनाओं को पेश करेंगी

इस कार्यक्रम के दौरान वे बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, सुकन्या और उज्जवला जैसी केंद्र सरकार की योजनाओं के साथ ही राज्य सरकार की ओर से पुलिस बलों में 33 प्रतिशत और स्थानीय निकायों में 50 फीसदी महिला आरक्षण जैसे कदमों के बारे में भी अपने अंदाज में आंकड़े पेश करेंगी। राज्य में महिला सुरक्षा के लिए 181 हेल्पलाइन शुरू करने को महिला सुरक्षा के लिए बड़ा कदम बताया जाएगा

 

कांग्रेस भी महिलाओं पर दे रही जोर

कांग्रेस ने भी गुजरात चुनाव में महिलाओं को लुभाने के लिए बहुत आक्रामक रणनीति अपनाई है। इसके तहत सभी चुनाव क्षेत्रों में बूथ स्तर तक पर महिलाओं की अलग से समिति बनाई गई है। राहुल गांधी खास तौर पर इसी रणनीति के तहत महिलाओं के मुद्दे को उठा रहे हैं।

Ad Block is Banned