Tamilnadu : छोटे भाई स्टालिन के खिलाफ सियासी मैदान में उतर सकते हैं एमके अलागिरी

 

 

  • अलागिरी कर सकते हैं नई पार्टी की घोषणा।
  • डीएमके विरोधी दलों में से किसी एक को दे सकते हैं अपना समर्थन।

 

 

 

By: Dhirendra

Published: 24 Dec 2020, 02:14 PM IST

नई दिल्ली। तमिलनाडु विधानसभा चुनाव 2021 को लेकर सियासी गतिविधियां जोर पकड़ने लगी हैं। इस बीच तमिलनाडु के पूर्व सीएम और डीएमके के प्रमुख नेता रहे करुणानिधि के बड़े बेटे एमके अलागिरी ने वहां की राजनीति को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मैं तीन जनवरी को अपने समर्थकों से मिलूंगा। समर्थकों से बातचीत के आधार पर अंतिम फैसला लूंगा। लेकिन इतना तय है कि आगामी चुनाव DMK के साथ मिलकर लड़ने का कोई चांस नहीं है।

मुख्यमंत्री समेत अन्य मंत्रियों पर स्टालिन ने लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

बता दें कि अगले साल मई में तमिलानाडु में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राज्य की राजनीति अभी से गर्म होने की लगी हैं। पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के बड़े बेटे एमके अलागिरी ने नई राजनीतिक दल के गठन करने की बात कही है।

दूसरी तरफ उनके छोटे भाई डीएमके चीफ एमके स्टालिन मुख्यमंत्री बनने के लिए रणनीति बनाने में जुटे हैं। एमके अलागिरी ने कहा है कि मैं अपने समर्थकों के साथ बातचीत कर रहा हूं। हम चर्चा कर रहे हैं कि क्या हमें अपनी पार्टी बनानी चाहिए या हमें किसी पार्टी को अपना समर्थन देना चाहिए।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned