Tejashwi Yadav का Nitish Kumar पर निशाना, कृपया तड़पते-मरते इंसानों को बचा लीजिए

  • राजद नेता तेजस्वी यादव ( tejashwi yadav ) ने ट्वीट पर ट्वीट कर बिहार सरकार को घेरा।
  • प्रदेश में कोरोना वायरस ( Coronavirus In Bihar ) के बढ़ते मामलों के बीच अस्पतालों की दुर्दशा पर उठाए सवाल।
  • मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( Bihar CM Nitish Kumar ) को बताया चुनावों ( Bihar Assembly polls ) में व्यस्त और प्रशासन को बताया पस्त।

बिहार। कोरोना वायरस महामारी ( Coronavirus Pandemic ) से जूझते देश में बिहार में पिछले कुछ दिनों से तेजी से नए मामले सामने आ रहे हैं। एक तरफ बिहार सरकार द्वारा इस पर लगाम लगाने के लिए तमाम उपाय अपनाने के दावे किए जा रहे हैं, तो दूसरी ओर विपक्ष लगातार शासन पर हमला कर रहा है। इस सिलसिले में बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव ( tejashwi yadav ) ने सोमवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( Bihar CM Nitish Kumar ) पर निशाना साधते हुए कहा कि इंसानियत और भगवान के नाम पर इलाज के अभाव में तड़पते-मरते इंसानों को बचा लीजिए।

Covaxin: स्वदेशी कोरोना वैक्सीन के पहले ह्यूमन ट्रायल से जागीं उम्मीदें, आज एम्स में हुआ परीक्षण

दरअसल, तेजस्वी यादव ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर का सहारा लेते हुए सरकार पर हमला बोला। तेजस्वी यादव ने सुबह सबसे पहले ट्वीट करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( Nitish Kumar ) के सरकार बनाने की चौथी वर्षगांठ पर तंज कसा। तेजस्वी ने ट्वीट में लिखा, "आज आदरणीय नीतीश जी द्वारा किए गए “जनादेश चीरहरण” की चौथी वर्षगाँठ है। आशा है उन्होंने जिस उद्देश्य के लिए जनादेश का अपमान कर 12 करोड़ बिहारियों के साथ छल और विश्वासघात किया था उसकी लक्ष्य प्राप्ति हो गयी होगी? 130 दिन बाद घर से बाहर निकल आज इस वर्षगाँठ पर जश्न तो मनाइए।"

इसके बाद दोपहर में उन्होंने एक अन्य ट्वीट में अस्पतालों की बुरी दशा को लेकर सरकार को घेरते हुए लिखा, "बिहार के अस्पतालों में रुई और सुई के अलावा आवश्यक मेडिकल उपकरण उपलब्ध क्यों नहीं है? 15 वर्षों के मुख्यमंत्री बताएं कि इतनी दयनीय स्थिति क्यों है? 4 महीने बाद भी अस्पतालों का क्षमतावर्धन, टेस्टिंग किट, ऑक्सिजन, वेंटिलेटर, मेकशिफ़्ट हॉस्पिटल्स का प्रबंधन नहीं किया जा सका? जवाब दें।"

Corovairus Vaccine आने से पहले काफी काम की जरूरत

तेजस्वी ( RJD leader Tejashwi Yadav ) यहीं नहीं रुके। उन्होंने दो घंटे बाद अगला ट्वीट करते हुए लिखा, "अगर सरकार नाम की कोई चीज़ बिहार में बची है तो कृपया इंसानियत और भगवान के लिए इलाज के अभाव में मर रहे तड़पते-मरते इंसानों को बचा लीजिए। Please"

फिर तेजस्वी ने दो घंटे बाद किए एक और ट्वीट में वीडियो शेयर करते हुए लिखा, "बिहार में नीतीश कुमार के हिमालयन ब्लंडर और कुंभकर्णी नींद की वजह से चहुंओर चीत्कार, हाहाकार और त्राहिमाम है। लोग चीख़, तड़प और मर रहे हैं। जनता त्रस्त, प्रशासन पस्त-व्यस्त और लापरवाह सरकार चुनावी तैयारियों ( Bihar Assembly polls ) में मस्त है। हे परम परमेश्वर! मेरे प्यारे प्रदेशवासियों को बचा लीजिए।"

Coronavirus की रोकथाम के लिए Delhi Model की तारीफ, अन्य राज्यों में किया जाएगा लागू

गौरतलब है कि बिहार में अब तक कोरोना वायरस ( Coronavirus In Bihar ) के कुल 39,176 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से एक्टिव केस 13,117 बने हुए हैं, जबकि 25,815 लोग इस बीमारी से रिकवर होकर डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। जबकि 244 लोगों की इस महामारी से मौत हो चुकी है।

Coronavirus Pandemic
Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned