केरल में लव जिहाद के नाम कई पर लड़कियों का हुआ धर्मांतरण: किरण रिजिजू

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को कहा कि केरल में लव जेहाद का चलन साफ दिख रहा है।

By: kundan pandey

Updated: 18 Aug 2017, 11:43 AM IST

हैदराबाद। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को कहा कि केरल में लव जेहाद का चलन साफ दिख रहा है। उन्होंने अपनी बात को स्पष्ट करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश से मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की जांच को एक तरह की वैधता मिली है। उच्चतम न्यायालय ने गुरुवार को एनआईए को धर्मांतरण तथा एक हिंदू महिला के मुस्लिम व्यक्ति से शादी करने के एक मामले की जांच करने का आदेश दिया था। एनआईए ने दावा किया था कि यह केवल एक अकेली घटना नहीं है बल्कि केरल में तेजी से उभर रहा एक चलन है।

लव जेहाद कह केरल हाईकोर्ट ने रद्द कर दी थी शादी
इससे पहले केरल उच्च न्यायालय ने शादी को रद्द करते हुए इसे लव जेहाद का मामला बताया था। गृह राज्य मंत्री रीजिजू ने कहा कि जब कहा जाता है कि कुछ महिलाओं ने कैमरे पर कथित रूप से कहा कि अंतर-धर्म विवाह के लिए उन्हें रिझाया गया तो इसका मतलब है कि मुद्दे को लेकर एक चलन साफ दिख रहा है। उन्होंने कहा, आपने जिस फैसले के बारे में सुना है उससे इस तथाकथित लव जेहाद को लेकर एनआईए के इस कदम को वैधानिकता मिली है, जो माननीय उच्चतम न्यायालय की तरफ से आई है।

सुप्रीम कोर्ट में है मामला, इसलिए नहीं करना चाहता कोई टिप्पणीः किरेन
हालांकि गृह राज्यमंत्री रीजिजू ने उच्चतम न्यायालय में चल रहे मामले पर कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि जब मामले की जांच की जा रही है, तो वह इस पर कोई टिप्पणी करना नहीं चाहेंगे। रीजिजू ने कहा, एक चलन है जो दिख रहा है। लेकिन अगर मैं कोई टिप्पणी करता हूं तो जैसा मैंने कहा, क्योंकि मैं गृह मंत्रालय से हूं, लोग इस मुद्दे को दूसरा कोण देंगे। इसलिए चलन साफ दिखने के बावजूद मैं अपनी तरफ से इस पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहूंगा।

kundan pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned