तृणमूल नेता ने भाजपा को बताया दुनिया की सबसे भ्रष्‍ट पार्टी

डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि नोटबंदी के बाद सबसे ज्‍यादा पैसा भाजपा के खाते में गया

ब्रायन ने मीडिया पर अंकुश का भी लगाया आरोप

By: Pankaj Yadav

Published: 09 Jul 2019, 07:31 PM IST

नई दिल्‍ली। तृणमूल कांग्रेस के राज्‍यसभा में नेता डेरेक ओ ब्रायन ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए इसे दुनिया की सबसे भ्रष्‍ट पार्टी बताया। ब्रायन ने कहा कि वे जो आरोप लगा रहे हैं उसका जवाब भाजपा को देना चाहिए।

ब्रायन मंगलवार को प्रेस कांफ्रेस में एडीआर की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि नोटबंदी के बाद भाजपा की आय 81 फीसदी बढ़ गई है। उन्‍होंने कहा कि इलेक्‍ट्रोल बांड के मामले में भी भाजपा सबसे आगे है। वहीं गूगल और फेसबुक को मिलने वाला 80 फीसदी विज्ञापन भाजपा ने दिए हैं। ब्रायन ने चुनौती देते हुए कहा कि भाजपा उन्‍हें गलत साबित करे।

ब्रायन ने मोदी सरकार पर मीडिया पर भी अंकुश लगाने का आरोप लगाया। उन्‍होंने कहा कि आज जो सरकार के खिलाफ बोलता है उसकी खबरें रूकवा दी जाती हैं। उन्‍होंने कहा कि संसद में भी सरकार अपनी मनमानी कर रही है। इस सत्र में 13 दिनों में 7 बिल पारित किए गए। ये सभी बिल अध्‍यादेश थे लेकिन किसी विधायी जांच के लिए भेजे बिना ही पारित कराया गया जो कि निराशाजनक है।

इससे पहले ब्रायन ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला, ब्रायन ने लिखा कि सरकार विपक्ष की भूमिका को लगातार नजर अंदाज कर रही है। ब्रायन ने संसद में पेश किए जाने वाले बिलों का जिक्र करते हुए लिखा कि सरकार मनमाने तरीके से बिल पारित करा रही है।

गौरतलब है कि संसद सत्र की शुरूआत से ही तृणमूल कांग्रेस सरकार के रूख को लेकर हमलावर है। लोकसभा चुनाव में गड़बड़ी का आरोप भी तृणमूल के नेता लगा चुके हैं। वहीं संसद भवन के परिसर में भी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर चुके हैं। तृणमूल कांग्रेस के नेताओं का आरोप है चुनाव ईवीएम से नहीं बल्कि बैलेट पेपर के माध्‍यम से होना चाहिए।

प्रेस की आजादी को लेकर नोटिस

ब्रायन ने कहा कि प्रेस की आजादी को लेकर अगले सप्‍ताह 16 राजनीतिक दल राज्‍यसभा में नोटिस देने जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि जो बात हम कह रहे हैं उसे मीडिया में जगह ही नहीं मिल रही है।

BJP Narendra Modi
Pankaj Yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned