त्रिपुरा: पंचायत चुनाव प्रचार के दौरान आगजनी, उपद्रवियों ने 20 बाइक को किया आग के हवाले

  • Violence in Tripura 20 मोटर साइकिलों को जलाया गया
  • Tripura Violence में 3 BJP workers घायल
  • BJP और CPI(M) कार्यकर्ता आपस में भीड़े

By: Shivani Singh

Updated: 07 Jul 2019, 10:41 PM IST

नई दिल्ली। त्रिपुरा के धर्मनगर के पश्चिम चंद्रपुर में रविवार को पंचायत चुनावों ( panchayat poll ) के प्रचार के दौरान हिंसक झड़पे हुईं। इस दौरान बीजेपी युवा मोर्चा के सदस्यों की एक कार और 20 मोटर साइकिलों को जला दिया गया। हिंसा ( violence in tripura ) में तीन बीजेपी समर्थक घायल हुए। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्जी कराया गया है।

यह भी पढ़ें-सेना के जवानों को मिलेगा ऐसा ब्रह्मास्त्र, पत्थरबाजों को वाहन में बैठकर ही करेंगे परास्त

 

वहीं, बीजेपी ने हिंसक घटनाओं के लिए CPI(M) को जिम्‍मेदार ठहराया है। बता दें कि त्रिपुरा में हिंसक झड़पों का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी भाजपा और CPI( M ) के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़पों की ख़बर आती रही है। लोकसभा चुनाव के दौरान भी यहां ऐसी घटनाएं सामने आईं थी।

BJP और IPFT के बीच हिंसा

तीन जुलाई को त्रिपुरा के धलाई जिले में सत्ताधारी गठबंधन दल IPFT की रैली हुई थी। इस रैली के दौरान IPFT कार्यकर्ताओं और बीजेपी के बीच हिंसक झड़पें ( Violence in Tripura ) हुईं थी।

tripura

यह भी पढ़ें-दिल्ली हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस की नई पहल, पेपरलेस हुआ कोर्टरूम

इस झड़प में बीजेपी के कई कार्यकर्ता घायल हुए थे। दरअसल, आईपीएफटी ने स्थानीय बाजार में विरोध रैली निकाली थी। लेकिन पुलिस ने उस रैली को रोक दिया था। जिससे IPFT के कार्यकर्ता नाराज हो गए थे और हिंसा शुरू कर दी थी।

उस दौरान उन्होंने बीजेपी कार्यालय पर हमला कर दिया और वहां रखे फर्नीचरों को तोड़ दिया था। इसके अलावा मोटरसाइकलों को क्षतिग्रस्त कर दिया था । यहीं नहीं उन्होंने बीएमएस कार्यकर्ताओं पर भी हमला बोला था।

हवाई फायरिंग

Tripura

दोनों दलों के बीच हुई हिंसक झड़प ( Violence in Tripura ) इतनी बढ़ गई थी कि पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी थी। वहीं, IPFT के कार्यर्ताओं ने आरोप लगाया था कि भाजपा नेताओं के निर्देश पर पुलिस ने गैरकानूनी तरीके से उन्हें रैली करने से रोका था। वहीं, बीजेपी ने इन आरोपों से इनकार करते हुए गलत बताया था।

बता दें राज्य में 27 जुलाई को तीन चरणों में पंचायत चुनाव होने हैं। बीजेपी और IPFT ने अगल-अगल पंचायत चुनाव लड़ने की घोषणा की है। इस घोषणा के बाद से ही दोनों पार्टियों में टकराव शुरू हो गया है।

Show More
Shivani Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned